हो देखो भारत में आज देखो भारत में आज, नोट मिले दो-दो हजार के...गीत

सतीश बर्मन राष्ट्रीय दृष्टिबाधित उच्चतर माध्यमिक विद्यालय जिला-जबलपुर मध्यप्रदेश से एक कविता सुना रहे हैं:
हो देखो भारत में आज देखो भारत में आज-
नोट मिले दो-दो हजार के हो, देखो भारत में-
नेता पैसा खूब कमावे नेता पैसा खूब कमावे-
नोट की गड्डी विदेश भिजाबे, खुल गौ भण्डार-
काले धन के जेबें भारी, छुपा के रक्खे रकम ये भारी-
हो देखो भारत में आज देखो भारत में आज...

Posted on: Jan 31, 2017. Tags: Satish Burman

Recording a report on CGNet Swara

Search Reports »

Loading

Supported By »


Environics Trust
Gates Foundation
Hivos
International Center for Journalists
IPS Media Foundation
MacArthur Foundation
Sitara
UN Democracy Fund


Android App »


Click to Download