एक सोना ला मति देबे, चांदी ला मति देबे प्रेम चिठ्ठी दे राख बे...प्रेम गीत-

ग्राम पंचायत-बमल्यात, पोस्ट-देवगढ़, थाना-सीतापुर, जिला-सरगुजा (छत्तीसगढ़) से विष्णु टोप्पो एक गीत सुना रहे हैं, जिसका अर्थ है सोना चांदी ना देकर प्रेम का संदेश सभी दीजिये :
एक सोना ला मति देबे, चांदी ला मति देबे-
प्रेम चिठ्ठी दे राख बे-
आयो निखे बाबा निखे,
ये दुनिया में कोनो कोनो नई खे-
भला सोना ला मति देबे, चांदी ला मति देबे-
प्रेम चिठ्ठी दे राख बे...

Posted on: Sep 22, 2018. Tags: CG SONG SURGUJA SURGUJIHA VISHNU TOPPO

फूल हर फुलावत है, पंजा हर पचकावत है रे...गीत-

भगतपारा, ग्राम पंचायत-धुमाडांड, ब्लाक-प्रतापपुर, जिला-सूरजपुर (छत्तीसगढ़) से रूपलाल मरावी हाल में चल रही विकास यात्रा और चुनाव राजनीति पर एक गीत सुना रहे हैं :
फूल हर फुलावत है, पंजा हर पचकावत है रे-
अऊ जित जाथे तो झापड़ ला दिखावत रथे गा-
हमर बोट ले जीत जाथे गा, तब आदिवासी ला झापड़ ला दिखावत रथे गा-
गाँव-गाँव समस्या हवे, आवेदन निवेदन हमन देवत रथी गा-
हमर शिकायत हर कहूँ तो सुनवाई नई होवत हवे गा-
गली-गली, गाँव-गाँव विकास यात्रा चलावत हवे गा...

Posted on: Sep 21, 2018. Tags: CG ROOPLAL MARAVI SONG SURAJPUR SURGUJIHA

ओरे एक जंत्री देखलो रे भाई, गोडे छोड़ जिभे रेंग जाई...सरगुजिया गीत

ग्राम-धुमाडाड, ब्लाक-प्रतापपुर, जिला-सूरजपुर (छत्तीसगढ़) से रूपलाल मरावी एक सरगुजिहा गीत सुना रहे है:
ओरे एक जंत्री देखलो रे भाई, गोडे छोड़ जिभे रेंग जाई-
ओहरे ये ये एक जंत्री देखलू रे भाई-
आवल आंधा घाटा बिजुल चमकाई जटा-
बरसत बूंद पानी जीवा पर जाई-
ओरे एक जंत्री देखलो रे भाई, गोडे छोड़ जिभे रेंग जाई...

Posted on: Sep 19, 2018. Tags: CG PRATAPPUR RUPLAL MARAVI SONG SURAJPUR SURGUJIHA

महुआरी मा जातेन महुआ बिने ला महुआरी मा...सरगुजिया गीत-

ग्राम-कोटया, विकासखण्ड-प्रतापपुर, जिला-सूरजपुर (छत्तीसगढ़) से मेवालाल देवांगन एक गीत सुना रहे हैं :
महुआरी मा जातेन महुआ बिने ला महुआरी मा-
कोने हर बीने एक मोरा दुई मोरा-
कोने हर बीने मोरा चार-
नौडा हर बीने एक मोरा दुई मोरा-
नौड़ी हर बीने मोरा चार महुआरी मा-
महुआरी मा जातेन महुआ बिने ला महुआरी मा...

Posted on: Sep 18, 2018. Tags: CG MEWALAL DEWANGAN SURAJPUR SURGUJIHA SONG

काबे मजुरावे वाता रे, कोन मजुलिहा ले बसेंड मजुरावे वाता ओ...सरगुजिया गीत-

परसापारा, ग्राम-ओदारी, पोस्ट-काला बरती, तहसील-वाड्रफनगर, थाना-चलगली, जिला-बलरामपुर (छत्तीसगढ़) से चंदरसाय सरगुजिया भाषा में एक गीत सुना रहे हैं :
काबे मजुरावे वाता रे, कोन मजुलिहा ले बसेंड-
मजुरावे वाता ओ-
यें माजुरावें वांता रे, कोन मजुलिहा ले बसेंड-
जब तोरे हे कोन मजुलिया ले बसें,
मजुरावें वत्ता रे सलिया में लिहा ले बसेंड...

Posted on: Sep 14, 2018. Tags: BALRAMPUR CG CHANDARSAI SONG SURGUJIHA WADRAFNAGAR

View Older Reports »

Recording a report on CGNet Swara

Search Reports »

Loading

Supported By »


Environics Trust
Gates Foundation
Hivos
International Center for Journalists
IPS Media Foundation
MacArthur Foundation
Sitara
UN Democracy Fund


Android App »


Click to Download