हम लोगों ने रोजगार गारंटी में 3 साल पहले काम किया, मजदूरी भुगतान अब तक नहीं हुआ...

ग्राम पंचायत-मेंडारी, जनपद पंचायत-वाड्रफनगर, जिला-बलरामपुर (छत्तीसगढ़) से सुरेश नेटी बता रहे है, उन जैसे काफी लोगों ने रोजगार गारंटी में 11 दिन काम किया था, जिसका पैसा 3 साल से नही मिला है, इसके लिए पंचायत में आवेदन किया, अधिकारी खाते में पैसा आ गया है बोलकर लोगो को गुमराह करते हैं इसलिए वे सीजीनेट के संथियो से अपील कर रहे हैं कि दिए गए नंबरों पर अधिकारियों से बात कर मजदूरी का पैसा दिलाने में मदद करें : CEO@9009630583, सरपंच@8435062381,सचिव@9977152848.
संपर्क नंबर 9111600884, 9174044413.

Posted on: Jun 11, 2018. Tags: SITARANI NETI

ऊगले जो नय अनी रामली रात, मोर सुघा ना, बरतरी खेले ना पाए...सुवा गीत

ग्राम-धुर्व, ब्लाक-ओड़गी, जिला-सूरजपुर (छत्तीसगढ़) से कैलाश कुमारी धुर्वे एक सुवा गीत सुना रही हैं:
ऊगले जो नय अनी रामली रात, मोर सुघा ना, बरतरी खेले ना पाए-
बरवा के छईया के खेले नही पाए, मोर सुवा ना आयेगे गे ससुर लेना हार-
ससुर के संगे साथे हम नही जाब, मोर सुवा ना एड़िया, धकत दिन जाये-
ऊगले जो नय अनी रामली रात, मोर सुघा ना, बरतरी खेले ना पाए-
राजा राम सुगा आये गे भसुर लेना हार, भसुर के संगे साथे हम नही जाब, मोर सुघा ना-
ऊगले जो नय अनी रामली रात, मोर सुघा ना, बरतरी खेले ना पाए...

Posted on: May 26, 2018. Tags: SITARANI NETI

काय माता अन मन, काय माता दून मन, ऐ दाई काहे प हिरत लागे, देवी हो माई...बैगा गीत

प्रतापपुर, जिला-सूरजपुर (छत्तीसगढ़) से सीता रानी नेटी एक भजन गीत सुना रही है, जो कि बैगा जनजाति के लोग उनके ज्वारे के सामने गाते है:
काय माता अन मन, काय माता दून मन-
ऐ दाई काहे प हिरत लागे, देवी हो माई-
सेवा ला ले ले माहतरी मोर, ऐ दाई काहे प हिरत लागे, देवी हो माई-
काय माता अन मन, काय माता दून मन-
ऐ दाई बिछिया प हिरत लागे, देवी हो माई-
ऐ दाई काहे प हिरत लागे, देवी हो माई...

Posted on: May 22, 2018. Tags: SITARANI NETI

धरती माँ को क़र्ज़ चुकाना है, जल जंगल जमीन को बचाना है...देशभक्ति गीत

ग्राम-देवरी, जिला-सूरजपुर (छत्तीसगढ़) से रमेश कुंजाम मडावी एक देशभक्ति गीत सुना रहे है:
धरती माँ को क़र्ज़ चुकाना है, जल जंगल जमीन को बचाना है-
ऐ हवा, ऐ गगन, ऐ पवन, धरती माता जल बरसाता है-
धरती माता सबको अन्न खिलाता है-
धरती माँ को क़र्ज़ चुकाना है, जल जंगल जमीन को बचाना है-
सतयुग में सब एक मामा सब कोई, एक साथ पुकारा है-
यही रे संदेसा, बात बहुत पुराना है, जल जंगल जमीन को बचाना है...

Posted on: May 21, 2018. Tags: SITARANI NETI

तोर जीवा मोरो जीवा, भूख ना पियसो लागे...डोमकच गीत

सीजीनेट नेट के साथी मोहन यादव अपने साथी सीतारानी नेटी से एक डोमकच गीत सुन रहे हैं :
तोर जीवा मोरो जीवा, भूख ना पियसों लागे-
सोना चांदी अंगूठी ला दे दे सहिना दे हाय रे नान सोना-
अंगूठी कर चिन्हा मोला दे दे पाहिना दे-
ये गोडें कर बिछिया हर ये फुल गिरे कोरिया-
हाय रे कोरिया रे अधरे माया टोरे-
ये डगरे कर जोड़ा जाम ये खाए लेबे राजाराम...

Posted on: May 17, 2018. Tags: SITARANI NETI

« View Newer Reports

View Older Reports »

Recording a report on CGNet Swara

Search Reports »

Loading

Supported By »


Environics Trust
Gates Foundation
Hivos
International Center for Journalists
IPS Media Foundation
MacArthur Foundation
Sitara
UN Democracy Fund


Android App »


Click to Download