सहकार रेडियो : बाल चौपाल (क्योंजीमल और कैसे-कैसलिया)

सीजीनेट पर आप सुन रहे हैं सहकार रेडियो का कार्यक्रम बाल चौपाल में कहानी “क्योंजीमल और कैसे-कैसलिया” का तीसरा भाग | इसे कई भागों में बांटा गया है| ये कार्यक्रम https://www.sahkarradio.com/ से सभार लिया गया है| अपने संदेश रिकॉर्ड करने के लिये 08050068000 पर मिस्ड कॉल कर सकते हैं|

Posted on: Oct 20, 2021. Tags: ANUPPUR MP SAHKAR RADIO

सहकार रेडियो: खरी-खरी (व्यंग श्रृंखला) : झूठ बोलो और वज़ीरों से भी झूठ बोलवाओ

श्रोताओं, सहकार रेडियो पर व्यंग श्रृंखला “खरी-खरी” में आज सुनिए डॉ. द्रोण कुमार शर्मा का व्यंग “झूठ बोलो और वज़ीरों से भी झूठ बोलवाओ”| डॉ. द्रोण पेशे से चिकित्सक हैं और इस श्रृंखला के व्यंग लेखों में व्यक्त किये गए विचार उनके निजी हैं| उनकी एक व्यंग श्रृंखला वेबसाइट न्यूज़ क्लिक पर लम्बे समय से “तिरछी नज़र” नाम से चल रही है| लेकिन अब सहकार रेडियो पर भी इस श्रृंखला को “खरी-खरी” नाम से ऑडियो फॉर्म में प्रसारित किया जा रहा है| आशा है समसामयिक सामाजिक-राजनीतिक मुद्दों पर आधारित ये व्यंग श्रृंखला आपको पसंद आएगी|

इसे आवाज़ दी है पवन सत्यार्थी ने|

Posted on: Oct 19, 2021. Tags: SAHKAR RADIO

सहकार रेडियो : ईश्वर का बहिष्कार-राधामोहन गोकुल-

साथियो किताबें करती हैं बातें कार्यक्रम में आज सुनिए राधामोहन गोकुल जी की पुस्तक “ईश्वर का बहिष्कार” की ऑडियो रिकॉर्डिंग का दूसरा भाग।
मुंशी प्रेमचंद के अनुसार, “राधामोहन गोकुल जी हिंदी के उन गिने चुने लेखकों में हैं, जिन्होंने धार्मिक, सामाजिक और नैतिक विषयों पर स्वतंत्र विचार किया है और उन विचारों का निडर होकर पालन किया है...”।
https://youtu.be/EGTHxfLpiD8
https://www.sahkarradio.com/chart/ishwar-ka-bahishkar-radhamohan-gokul/

Posted on: Oct 18, 2021. Tags: RADIO SAHKAR

सहकार रेडियो: कहानी: आखिरी पत्ता- ओ हेनरी

सहकार रेडियो के कार्यक्रम कहानियों का कारवां में आज आप सुनेंगे अमेरिकी लेखक ओ. हेनरी की कहानी ‘आखिरी पत्ता’। आशा है कहानी आपको पसंद आएगी। आवाज़ है पवन सत्यार्थी की| ध्वनि सम्पादन किया है साथी शिल्पी ने। अपनी प्रतिक्रिया हमें यूट्यूब और फ़ेसबुक पर कमेंट बॉक्स में ज़रूर दें।

Posted on: Oct 17, 2021. Tags: O HENRY SAHKAR RADIO THE LAST LEAF

सहकार रेडियो: बाल चौपाल: गड़रिया बालक और बरगद का पेड़

श्रोताओं, सहकार रेडियो के कार्यक्रम “बाल चौपाल” में आज आप कहानी “गड़रिया बालक और बरगद का पेड़”| ये इंडोनेशिया की कहानी है और इसे प्रकाशित किया है नेशनल बुक ट्रस्ट इंडिया ने| अनुवाद किया है अरविंद गुप्ता ने| आवाज़ है जयपुर, राजस्थान से साथी सुनीता की| | ध्वनि सम्पादन किया है शिल्पी ने|

Posted on: Oct 17, 2021. Tags: SAHKAR RADIO

View Older Reports »

Recording a report on CGNet Swara

Search Reports »


YouTube Channel




Supported By »


Environics Trust
Gates Foundation
Hivos
International Center for Journalists
IPS Media Foundation
MacArthur Foundation
Sitara
UN Democracy Fund


Android App »


Click to Download