सतरंगिया लहराए, हो देवा मोरे...गोंडी भक्ति गीत

ग्राम- सिरोलीपार, विकासखण्ड- लखनादोन, जिल-सिवनी, मध्यप्रदेश से राबिन उइके गोंडी समाज के देवी-देवताओं के स्तुति में एक गीत प्रस्तुत कर रहे हैं:
गीत के बोल हैं-
सतरंगिया लहराए, हो देवा मोरे-
सतरंगिया लहराए-
कौने मढ़ा है तेरो ठाना, कौन है पूजनहार-
कौन करत है तोरी सुमरनी, कौन करे गुणगान-
हो देवा मोरे...
साजा मढ़ा है तेरो ठाना, कोया पूजनहार-
मुठवा करत है तोरी सुमरनी-
लिंगो करत है तोरी सुमरनी-
सगाजन करे है गुणगान-
हो देवा मोरे...
कलि कंकाली जंगो दाई महाशक्ति वरदान-
तैंतीस कोटि के देवी-देवता-
महिमा करे हैं बखान-
हो देवा मोरे...
अगध-अनाधि देव है देवा, भेद नहीं कोई पाये-
प्रकृति शक्ति बड़ा देव हैं-
गोंडी जन ध्यान लगाए-
हो देवा मोरे...

Posted on: Mar 27, 2015. Tags: Robin Uikey

Recording a report on CGNet Swara

Search Reports »

Loading

Supported By »


Environics Trust
Gates Foundation
Hivos
International Center for Journalists
IPS Media Foundation
MacArthur Foundation
Sitara
UN Democracy Fund


Android App »


Click to Download