5.6.31 Welcome to CGNet Swara

कवर्धा (कबीरधाम) में 14 से 16 सितम्बर सीजीनेट स्वर बुल्टू रेडियो प्रशिक्षण हेतु सभी को आमन्त्रण...

कबीरधाम (छत्तीसगढ़) से रमन सिंह ठाकुर बता रहे हैं कि करीरधाम ( कवर्धा) शहर में सीजीनेट बुल्टू रेडियो का प्रशिक्षण14 सितम्बर से 16 सितम्बर 2017 तक रखा गया है इसलिए सभी साथियों आमंत्रित किया जा रहा है | वे बता रहे हैं कि सीजीनेट गरीबों की आवाज़ है जिन लोगों को मुख्यधारा की मीडिया में स्थान नहीं मिलता वे साथी यह सीखकर अपनी आवाज़ उठा सकते हैं और देश दुनिया तक अपनी बात पहुंचा सकते हैं. लोक सहयोग से यह प्रशिक्षण कार्यक्रम राजमहल चौक, संतोषी मंदिर प्रांगण कवर्धा में रखा गया है इसमें आप भी सहयोग कर सकते हैं और कृपया अपने साथियों को भी बताइये जो बुल्टू रेडियो कैसे चलता है यह सीखकर अपना खुद का बुल्टू रेडियो भी शुरू करना चाहेंगे | ठाकुर@8827881714

Posted on: Sep 13, 2017. Tags: RAMAN SINGH THAKUR

मोर दिल म हे अरमान मोला प्रभु राम चाही ना...भक्ति गीत-

रमन सिंह ठाकुर ग्राम मड़मड़ा जिला कबीरधाम, छत्तीसगढ़ से एक गीत सुना रहे है:
श्याम चाही ना जी मोला घनश्याम चाही ना-
श्याम चाही ना जी मोला घनश्याम चाही ना-
मोर दिल म हे अरमान मोला प्रभु राम चाही ना-
मोर दिल म हे अरमान मोला प्रभु राम चाही ना-
चौदह बरस बनवासी होए गए कैकई ल तको ग दुःख होगे-
दसरथ बाबु सुरता मा गा आंसू के धार बोहावे ना-
श्याम चाही ना जी मोला घनश्याम चाही ना-
श्याम चाही ना जी मोला घनश्याम चाही ना-
अयोध्या चाही ना जी मोला मडमड़ा चाही ना-
मोर दिल मा हे भारत मा मोला हिंदुस्तान चाही ना...

Posted on: Feb 25, 2017. Tags: RAMAN SINGH THAKUR

Bultoo Radio from Chhattisgarh in Chhattisgarhi languages: 22nd Sept 2016...

Today Raman Singh is helping us listen to reports and songs from Chhattisgarh in this latest edition of Bluetooth radio program in Chhattisgarhi and Pahadi Korwa languages. Villagers use their mobile phones to record these songs and reports. They call 08050068000 to record. Now this program can be downloaded by people from their Gram Panchayat office if it has Broadband or from a download centre nearby. They can also get it from someone with smartphone and internet and then via bluetooth.

Posted on: Sep 22, 2016. Tags: CHHATTISGARH RAMAN SINGH THAKUR

माटी मोर मितान रे माटी मोर मितान... छत्तीसगढ़ी गीत

छत्तीसगढ़ के कबीरधाम जिले के मामड़ा गाँव से रमण सिंह ठाकुर छत्तीसगढ़ी भाषा में एक गीत प्रस्तुत कर रहे हैं:
माटी मोर मितान रे माटी मोर मितान-
यही हमार बरदाई ददा ये यही हमार एशियान रे-
माटी मोर मितान रे माटी मोर मितान-
माटी के कोरां मा हर बेटा मन वीर-जवान होथे-
ये माटी खातिर संगी कौनों बलिदान होथे-
माटी मोर मितान रे माटी मोर मितान-
यही मा उपजेन यही मा बाढ़ेन यही मा जिनगी बिताएन रे-
माटी के मरजाद रखे बर मानुष तन ला पाएन-
माटी मोर मितान रे माटी मोर मितान...

Posted on: Sep 12, 2015. Tags: Raman Singh Thakur

Recording a report on CGNet Swara

Search Reports »

Loading

Supported By »


Environics Trust
Gates Foundation
Hivos
International Center for Journalists
IPS Media Foundation
MacArthur Foundation
Sitara
UN Democracy Fund


Android App »


Click to Download


From our supporters »