राजकोरा-कोरा हो दाई निया कोरत मन्दन...गोंडी विवाह गीत

ग्राम-चाहचाड तहसील-दुर्गकोंदल, जिला- कांकेर, छत्तीसगढ़ से राजमो बाई सलाम, लक्ष्मी बाई कुमरा, दुर्गा बाई कवासी एक गोंडी गीत गा रही हैं. गीत, शादी के समय गाया जाता है. लड़की, लड़के से कहती है कि जल्दी रश्म अदा करो, मैं कब तक ऐसे धूप में खड़ी रहूंगी:
राजकोरा-कोरा हो दाई निया कोरत मन्दन-
कोरा लूरे मंदन दाई हो कोरा लूरे मंदन-
कोरा उबरे मंदन ओ दाई हो कोरा उबरे मंदन-
चैतू-बैशाख कैदी ओ दाई चैतू-बैशाख कैदी-
एदित मंदा परं ओ दाई...

Posted on: Jul 20, 2015. Tags: Rajmo Salam