चोली रिलो रिरिलो चोली रिलोयो रिलो...गोंडी शादी गीत

ग्राम-गुन्दुल, पोस्ट-पानीडोबीर, विकासखंड-कोयलीबेडा, तहसील-पखांजूर, जिला-उत्तर बस्तर कांकेर (छत्तीसगढ़) से रमा कडियम एक गोंडी गीत सुना रही है, इस गीत को शादी के समय गाया जाता है:
चोली रिलो रिरिलो चोली रिलोयो रिलो-
तेदा रा दुला नीके बलाह हुस्कल रा दुला-
नीके लजा वायो रा ये दादा दुला-
नीके लजा वायो रा ये दादा दुला-
चोली रिलो रिरिलो चोली रिलोयो रिलो-
चोली रिलो रिरिलो चोली रिलोयो रिलो-
लयन तता वतोंन रा ये दादा दुला-
लयन तता वतोंन रा ये दादा दुला-

मंडा हुडी वतीन डा ये दादा दुला-
मंडा हुडी वतीन डा ये दादा दुला...

Posted on: Jul 09, 2018. Tags: GONDI SONG RMA KADIYAM

तोता और मैना की कहानी (गोंडी भाषा में)

ग्राम- गुन्दुल, पोस्ट-पानीडोबरी, विकासखंड-कोयलीबेडा, तहसील-पखांजूर जिला-उत्तर बस्तर कांकेर (छत्तीसगढ़) से रमा कडियम गोंडी भाषा में एक कहानी बता रही है. कहानी इस प्रकार है: एक पिंजरे में बंद तोता से मैना बोली आप बहुत मजे में रहते हो| बैठे-बैठे अच्छा-अच्छा खाना मिलता है. बहुत बढ़िया पानी भी मिलता है| काश मुझे भी ऐसी पिंजरे की जिंदगी मिल जाती मुझे तो दिन रात भोजन और पानी के लिए भटकना पड़ता है तब कही अन्नकण अपने पल्ले पड़ते है| आप चाहते है की पिंजरे की जिन्दगी मिले तो ठीक है आ जाओ पिंजरे में मै जाता हूँ वन में ऐसे कहकर तोता जंगल में उड़ गया |

Posted on: Jul 09, 2018. Tags: GONDI KAHANI RMA KADIYAM

गोटुल में सुनाये जाने वाला गोंडी हट्टोन्ग

ग्राम-गुन्दुल, पोस्ट-पानीडोबीर, विकासखंड-कोयलीबेडा, तहसील-पखांजूर जिला-कांकेर (छत्तीसगढ़) से रमा कडियम एक हट्टोन्ग सुना रही है. गोंडी संस्कृति में हट्टोन्ग सुनाने का रिवाज है, बहोत पहले ज़माने में गोटुल में हट्टोन्ग सुनाया करते थे! कई इलाको में आज भी जीवित है, यह वही हट्टोन्ग है:

लोपा लोपा तिनमा दादन वह्चीकन,
(अन्दर अन्दर मत खाओ भैया को बताउंगी)
उचुह्नोर पेकाल राजान संग उधिस तिन्तोर-
(छोटासा लड़का राजा के साथ बैठकर खा रहा है)
हुडिलोर पेकाल कड्स कड्स दायतोर-
(एक छोटा सा लड़का है वो जोर जोर से चल रहा है )
नडुम नडुम मंडा..रंड वडकेंग टोंडा-
(बीच बीच में मडवा है दोनों किनारे में नार)
दडीया मेंड रुपियानुंग लकला परनाह आयो-
(थाली भर के रूपये को गिन नहीं सकते है)
दोड भूम ता लया वाता..कोकोहने पिला एतीता-
(एक निचे गाँव से लड़की आई है एक नन्ही सी बच्ची पाई है )
वर्रोर पेकाल कड़ीहच कड़ीहच गत्ते उह्यान्तोर-
(एक लड़का जुक जुक के कपड़ा पहन रहा है )
उह्ताय्तोर, पुयले पुन्गार तुन..कोय परनाह आयो-
(खिला हुआ फूल को हम तोड़ नही सकते है)

Posted on: Jul 07, 2018. Tags: GONDI RMA KADIYAM