Impact : 1 माह बाद वृद्धावस्था पेंशन मिलने लगा...

ग्राम पंचायत-बागडोंगरी, जिला-नरायणपुर (छत्तीसगढ़) से कमल सिंह यादव बता रहे हैं कि उनको वृद्धावस्था पेंशन नहीं मिल रहा था जिस समस्या को उन्होंने सीजीनेट में रिकॉर्ड किया था जिसके 1 माह बाद उनको पेंशन मिल गया इसलिये वे मदद करने वाले सभी श्रोताओं और विभागीय अधिकारियों को धन्यवाद दे रहे हैं : संपर्क नंबर@9691809536. (AR)

Posted on: Jul 21, 2020. Tags: CG IMPACT STORY KAMAL SINGH YADAV NARAYANPUR

अपने दुःख ला अपन मै जानो, मै हा बताओं काला...गीत-

ग्राम-कुमसी, जिला-नारायणपुर (छत्तीसगढ़) से घरसूराम बघेल एक गीत सुना रहे हैं:
अपने दुःख ला अपन मै जानो-
मै हा बताओं काला-
मोर पाँव मा पड गये छाला-
कैसे आओं तोर दिवाला-
अपने दुःख ला अपन मै जानो-
मै हा बताओं काला... (AR)

Posted on: Jul 20, 2020. Tags: CG GHARSURAM BAGHEL NARAYANPUR SONG

मैं हूँ नीली नैना परी आसमान से मैं उतरी...गीत-

ब्लाक-ओरछा, जिला-नारायणपुर छत्तीसगढ़ से भान साहू के साथ कन्या छात्रवास के बच्चे मालेश्वरी, कुमारी चेट्टी कोर्राम एक गीत सुना रहे है :
मैं हूँ नीली नैना परी-
आसमान से मैं उतरी-
मुझको चलना आता नहीं-
धम्मक-धम्मक चलती हूँ-
मैं हूँ नीली नैना परी...

Posted on: Jul 19, 2020. Tags: CHETTI KORRAM HINDI SONG MALESHWARI NARAYANPUR CG

गाँव में सीसी सड़क नहीं बना है...बनवाने में मदद करें-

ग्राम-रायनार, पंचायत-धनौरा, जिला-नारायणपुर (छत्तीसगढ़) से खंदरू बाई, दसरती बाई, सनबती, फूलबती और दसरी बता रही हैं कि उनके गाँव में सीसी रोड नहीं बना है, बारिश में कीचड़ हो जाता है, आने जाने में दिक्कत होती है, मुख्य सड़क से पुराना पारा तक रोड बनाना चाहिये, इस संबंध में उन्होंने सरपंच सचिव के पास अपनी बात को रखा, लेकिन आज तक उस पर कोई पहल नहीं हुई है इसलिये वे सीजीनेट के साथियों से अपील कर रहे हैं कि दिये नंबरों पर बात कर गाँव में सीसी रोड बनवाने में मदद करें: संपर्क नंबर@9479057942. सरपंच@7647055466, सचिव@9406954283, CEO@9425263888. (171626) (AR)

Posted on: Jul 18, 2020. Tags: CG NARAYANPUR PROBLEM PWD

राशायानिक खाद से खेती ख़राब होती है इसलिये जैविक खाद का उपयोग करते हैं...

ग्राम-कातुलबेड़ा, जिला-नारायणपुर (छत्तीसगढ़) से रजुलाल मंडावी जो एक किसान हैं बता रहे हैं वे अपनी खेती में राशायानिक खाद का उपयोग नहीं करते हैं, गोबर खाद का उपयोग करते हैं, उनका कहना है राशयानिक खाद के उपयोग से खेती ख़राब होती है, उपजाऊ शक्ति कम होती है, जैविक खाद के उपयोग से अनाज का स्वाद अच्छा रहता है, स्वास्थ्य के लिये अच्छा होता है इसलिये जैविक खाद का उपयोग करते हैं, उनके गाँव सभी किसान जैविक खाद का उपयोग करते हैं| (AR)

Posted on: Jul 18, 2020. Tags: BHAN SAHU CG NARAYANPUR STORY

View Older Reports »