घी के गुण और लाभ...

सेतुगंगा, जिला-मुंगेली (छत्तीसगढ़) से वैद्य रमाकांत सोनी गाय के घी के विषय में जानकारी दे रहे हैं, गाय का घी जितना पुराना होता है उतना गुणकारी होता है, शक्तिवर्धक होता है, प्राचीन काल से घी को भोजन सामग्री में शामिल किया गया है, पूजा पाठ में भी हवन में घी का उपयोग होता है, इसका सेवन स्वास्थ्य के लिये लाभदायक होता है, घी का उपयोग करें और लाभ लें| संपर्क नंबर@9589906028. (AR)

Posted on: Jun 23, 2020. Tags: CG MUNGELI RAMAKANT SONI

पर्यावरण को स्वच्छ करने और संक्रमण को रोकने में यज्ञ का महत्व...

सेतुगंगा, जिला-मुंगेली (छत्तीसगढ़) से वैद्य रमाकांत सोनी यज्ञ करने से होने वाले लाभ के बारे में बता रहे हैं, भारतीय संस्कृति में यज्ञ करने का केवल धार्मिक आधार नहीं है, पर्यावरण तथा स्वास्थ्य के रक्षा के लिये भी है यज्ञ किया जाता है, आधुनिक शोध के अनुसार हवन का धुआं पर्यावरण को शुद्ध करता है और जीव जन्तुओ के स्वास्थ्य पर सकरात्मक प्रभाव डालता है, हवन में डाले जाने वाले लकड़ी से कई प्रकार के बीमारियों का नाश होता है, मेहंदी की लकड़ी जलाने से संक्रामक बीमारी को रोकने में लाभ होता है| संपर्क नंबर@9589906028. (AR)

Posted on: Jun 23, 2020. Tags: CG MUNGELI RAMAKANT SONI

कोरोना से बंचने के लिये सरकार के निर्देशों का पालन करें...

सेतगंगा, जिला-मुंगेली (छत्तीसगढ़) से वैद्य रमाकांत सोनी बता रहे हैं आज देश कोरोना वायरस नामक महामारी से जूझ रहा है, इस पर विज्ञान अभी इलाज तैयार नहीं कर पाया है इसलिय हमे सरकार के कहे अनुसार सोसल डिस्टेंस में रहना है और घर से नहीं निकलना है जिससे इससे बचाव हो सके, रोग प्रतिरोधक क्षमता को बनाये रखने के लिये नीम, काली मिर्च और तुलसी का सेवन प्रातः काल कर सकते हैं स्वच्छ जल का उपयोग करें, स्वास्थ्य संबंधी सलाह के लिये संपर्क कर सकते हैं: संपर्क नंबर@9589906028.

Posted on: Mar 28, 2020. Tags: AWARENESS CG HEALTH MUNGELI RAMAKANT SONI

स्वास्थ्य स्वर : बवासीर, ख़ूनी बादी घरेलू उपचार...

जिला-मुंगेली (छत्तीसगढ़) से वैद्य रमाकांत सोनी बवासीर ख़ूनी हो या बादी के घरेलू उपचार बता रहे है, बवासीर 2 प्रकार की होती है। आम भाषा में इसको ख़ूँनी और बादी बवासीर के नाम से जाना जाता है। कही पर इसे महेशी के नाम से जाना जाता है. नुस्ख़े की उपचार सामग्री-50 ग्राम नीम का तेल, 5 ग्राम सुहागा, 5 ग्राम फिटकरी, दोनों का मिश्रण बनाकर नीम के तेल के साथ लेप बनाकर लगावें| इसका प्रयोग करने से ख़ूनी बवासीर बादी दोनों में प्रभावशाली रहता है. अधिक जानकारी के लिए सम्पर्क करें. रमाकांत सोनी@9589906028.

Posted on: Nov 26, 2019. Tags: HEALTH MUNGELI CG RAMAKANT SONI

स्वास्थ्य स्वर : मठा सेवन करने के फायदे-

सेतगंगा, जिला-मुंगेली (छत्तीसगढ़) से वैद्य रमाकांत सोनी मठा के गुड़ो के बारे में
बता रहे हैं| मठा का सेवन करने से वमन, जी मचलाना, पीलिया रोग, मोटापा, बवासीर जैसी समस्याओं में आराम मिलता है| लोग आज के समय में फैसन के चक्कर में बाजार में मिलने वाले तरह-तरह के कोलड्रिंक पेय का उपयोग करते हैं| उसके जगह मठा का सेवन कर लाभ ले सकते हैं| अधिक जानकारी के लिये संपर्क कर सकते हैं :
रमाकांत सोनी@9598906028.

Posted on: Jun 23, 2019. Tags: CG HEALTH MUNGELI RAMAKANT SONI

View Older Reports »