इतय इतय चारो ओर, क्योटी क्योटी करे सीहोर...कविता-

ग्राम-रेवटी, जिला-बलरामपुर (छत्तीसगढ़) से अखिलेश कुसवाहा एक कविता सुना रहे हैं:
इतय इतय चारो ओर, क्योटी क्योटी करे सीहोर-
जहां तहां खटकत पास है-
भाजल सो चाहा गावर ग्वालनी के कछू-
डरने डराने से उठाने रोम गात है...

Posted on: Jul 20, 2019. Tags: AKHILESH KUSWAHA BALRAMPUR CG POEM

गेहूं गाये खेत-खेत म और बाजरा छम-छम नाचे...कविता-

ग्राम-कृष्णा नगर, धामनी, जिला-बलरामपुर (छत्तीसगढ़) से देवसन कुमार सरुता एक कविता सुना रहे हैं :
गेहूं गाये खेत-खेत म और बाजरा छम-छम नाचे-
चना बजता घूंघूंर छन छन और मूंग चयो कविता बाचे-
लोक गीत की कड़ी-कड़ी में जीवन का सरगम-
लोक कला का जादू जैसा, कदम-कदम बंधन लगता है...

Posted on: Jul 20, 2019. Tags: BALRAMPUR DEVASAN KUMAR SARUTA POEM

भारत का रहने वाला हूँ, भारत की बात सुनाता हूँ...देश भक्ति गीत-

जिला-जबलपुर (मध्यप्रदेश) से राजकुमार काछी एक देश भक्ति गीत सुना रहे हैं :
है प्रीत जहाँ की रीत सदा, मैं गीत वहाँ के गाता हूँ-
भारत का रहने वाला हूँ, भारत की बात सुनाता हूँ-
काले-गोरे का भेद नहीं, हर दिल से हमारा नाता है-
कुछ और न आता हो हमको, हमें प्यार निभाना आता है-
जिसे मान चुकी सारी दुनिया, मैं बात वो ही दोहराता हूँ-
भारत का रहने वाला हूँ, भारत की बात सुनाता हूँ...

Posted on: Jul 20, 2019. Tags: BALRAMPUR CG RAJKUMAR KACHHI SONG

गाँव में आधार कार्ड नहीं बनता दूर दूसरे गाँव जाना पड़ता है...मदद की अपील-

ग्राम-मडमडा, थाना-पांडातरई, तहसील-बोडला, जिला-कबीरधाम (छत्तीसगढ़) से रामभजन झारिया बता रहे हैं| इस समय छत्तीसगढ़ सरकार द्वारा राशन कार्ड का नवीनीकरण किया जा रहा है| नवीनीकरण कराने वाले परिवार के सदस्यों का आधार कार्ड होना आवश्यक है| वह छोटा बच्चा हो या बड़ा बुजुर्ग सभी के लिये अनिवार्य है| इस संबंध में तिरसिया बाई से चर्चा कर रहे हैं| तिरसिया बाई ग्राम बांगड़, पंचायत-सेंदुरखार की निवासी हैं| जो अपने बच्चे का आधार कार्ड बनवाने के लिये आयी हैं| उनका गाँव मडमाडा से काफ़ी दूर है| गाँव से और भी लोग आधार कार्ड के लिये आये| लोगो को वहां तक आने में दिक्कत होती है| छोटे बच्चो लेकर आना पड़ता है| इसलिये वे सीजीनेट के साथियों से अपील कर रहे हैं कि गाँव में आधार कार्ड बनाने की सुविधा कराने में मदद करें : कलेक्टर@9479118118. संपर्क नंबर@9685784766.

Posted on: Jul 19, 2019. Tags: CG KABIRDHAM PROBLEM RAMBHAJAN JHARIYA

नैना जुडाई गईला दर्शन से...गीत-

ग्राम पंचायत-कोटराही, तहसील-वाड्रफनगर, जिला-बलरामपुर (छत्तीसगढ़) से पानपति मरावी एक गीत सुना रही हैं:
फूल बनकर मुस्कुराना हम जनाते हैं-
मुस्कुरा के गम भुलाना हम जानते हैं-
मिल जुलकर लोग खुश हैं तो क्या हुआ-
बिना मिले रिश्ते निभाना हम जानते हैं-
स्वागत करेला हम तन मन से-
नैना जुडाई गईला दर्शन से...

Posted on: Jul 19, 2019. Tags: BALRAMPUR CG PANPATI MARAVI SONG

View Older Reports »

Recording a report on CGNet Swara

Search Reports »

Loading

Supported By »


Environics Trust
Gates Foundation
Hivos
International Center for Journalists
IPS Media Foundation
MacArthur Foundation
Sitara
UN Democracy Fund


Android App »


Click to Download