भारत माता तोर चरन के अमरित पीबो...छत्तीसगढ़ी देशभक्ति गीत

ब्लाक-मोहल्ला मानपुर, जिला-राजनांदगाँव (छत्तीसगढ़) से राजेन्द्र कोरेटी छत्तीसगढ़ी भाषा में देशभक्ति गीत सुना रहे है :
भारत माता तोर,चरन के अमरित पीबो-
तन मन धन बल संग,देश के खातिर जीबो-
परन करत हन आज,तोर माटी ला छूके-
लाबो ओ सत् राज,बिना सुसताये रूके-
होही नवा बिहान,राज सुनता के आही-
जिनगी जाँगर चेत,सोझ रद्दा मा जाही-
भरही सबके पेट,सबो झन बने अघाहीं-
करके ओ परियास,सरग धरती मा लाहीं-
लालच भष्टाचार,मूड़ ला तोप लुकाहीं-
अपरिद्धा घूसखोर,आँख ला मूँद लजाहीं-
सत् भाखा सत् काज,सत्य मारग अपनाहीं-
जुग जिनगी के संग,मनुष मन बड़ हरषाहीं-
तोरे अन संतान,भटक गे हन ओ दाई-
होय समझ के फेर ,तभे माते करलाई-
दे दे ओ आशीष,चरन के पँइया लागौं-
अपरिद्धा पन छोड़,तोर सेवा बर जागौं-

Posted on: May 18, 2017. Tags: RAJENDRA KORETI

नए गाँव के शुरुआती उत्सव में दूर- दूर से लोगों के साथ उनके देवी-देवताओं को भी बुलाया गया है...

मोहला-मानपुर क्षेत्र, जिला-राजनांदगांव (छत्तीसगढ़) से राजेन्द्र कोरेटी एक आदिवासी धार्मिक यात्रा के दौरान एक गावं परेवाडी पहिंचे हैं जो ग्राम पंचायत मढियानवाडी से 13 किमी दूर है आज वे हमें उनकी पारंपरिक रीति-रिवाज के बारे में जानकारी दे रहे हैं, वे बता रहे हैं कि इस गाँव की नई स्थापना की गयी है और उसके लिए किये जा रहे उत्सव में दूर-दूर के लोगों के साथ उनके देवी देवताओं को भी निमंत्रण दिया गया है. कार्यक्रम में बकरे, मुर्गी तथा सूअर की बलि दिए जाने के बाद सब ग्रामीणों को भोज कराया गया. वे कह रहे हैं इस तरह हम अपने पूर्वजों द्वारा शुरू किये गए रीति-रिवाजों को लगातार अनुसरण कर रहे हैं जो लगातार चलना चाहिए | राजेन्द्र कोरेटी@9407954428

Posted on: May 16, 2017. Tags: RAJENDRA KORETI

तेंदूपत्ता संग्रह के लिए अभी गाँव के लोग सुबह 4 बजे जंगल चले जाते हैं और दोपहर तक लौटते हैं...

मोहला मानपुर, जिला-राजनांदगाव (छत्तीसगढ़) से राजेन्द्र कोरेटी बता रहे है कि मध्य भारत क्षेत्र के लोग आर्थिक आय के लिए वनोपज संग्रह पर काफी निर्भर करते है, इसमें मई महीने में तेंदूपत्ता की तुड़ाई का कार्य किया जाता है, क्षेत्र में अभी तेंदूपत्ता संग्रह का काम चल रहा है, लोग सुबह ४ बजे से जंगल चले जाते है घर के ज्यादातर सदस्य दोपहर तक जंगलो में ही रहते है, शाम तक प्रति व्यक्ति ५० पत्तो का बण्डल बनाकर उसके बाद क्रय विक्रय के लिए एक निश्चित जगह पर जाकर जहा पर एक मुन्सी नामक व्यक्ति होता है उसे देता है जो कुछ दिनों के बाद उसे आगे भेजता है. उसके बाद ग्रामीणों को पत्ता तुड़ाई का धनराशि दिया जाता है, इस वर्ष २०१६-१७ प्रति सैकड़ा २०० रुपए का दर सरकार द्वारा दिया जा रहा है. कोरेटी@9407954428

Posted on: May 15, 2017. Tags: RAJENDRA KORETI

Bultoo Radio from Chhattisgarh in Chhattisgarhi language: 15th August 2016...

Today Rajendra Koreti is helping us listen to songs and reports from all over Chhattisgarh in this latest edition of Bluetooth radio program in Chhattisgarhi language. Villagers use their mobile phones to record these songs and reports. They call 08050068000 to record. Now this program can be downloaded by people from their Gram Panchayat office if it has Broadband or from a download centre nearby. They can also get it from someone with smartphone and internet and then via bluetooth.

Posted on: Aug 15, 2016. Tags: CHHATTISGARH RAJENDRA KORETI

Bultoo Radio from Chhattisgarh in Chhattisgarhi language: 9th August 2016...

Today Rajendra Koreti is helping us listen to songs and reports from all over in this latest edition of Bluetooth radio program in Chhattisgarhi language spoken in Chhattisgarh state. Villagers use their mobile phones to record these songs and reports. They call 08050068000 to record. Now this program can be downloaded by people from their Gram Panchayat office if it has Broadband or from a download centre nearby. They can also get it from someone with smartphone and internet and then via bluetooth.

Posted on: Aug 09, 2016. Tags: CHHATTISGARH RAJENDRA KORETI

« View Newer Reports

View Older Reports »

Recording a report on CGNet Swara

Search Reports »

Loading

Supported By »


Environics Trust
Gates Foundation
Hivos
International Center for Journalists
IPS Media Foundation
MacArthur Foundation
Sitara
UN Democracy Fund


Android App »


Click to Download