नानी तेरी मोरनी को मोर ले गये...कविता-

ग्राम-चिन्दिटोला, तहसील-पंडरिया, जिला-कबीरधाम (छत्तीसगढ़) से श्रेया एक कविता सुना रही है:
नानी तेरी मोरनी को मोर ले गये-
बाकी जो बचा था काले चोर ले गये-
खाते-पिते मोटे हो के चोर बैठे रेल में-
चोरो वाला गढ़ा कट कर-
सीधा पंहुचा जेल मे-
नानी तेरी मोरनी को मोर ले गये-
बाकी जो बचा था काले चोर ले गये...

Posted on: Oct 06, 2019. Tags: PURNIMA SAHU KABIRDHAM CG SONG