हमारे पारा में हैण्डपम्प नहीं है, हम लोग झिरिया का पानी पीकर बीमार पड़ रहे हैं, कृपया मदद करें...

ग्राम-जरहीडीही, पंचायत-अड़गड़ी, विकासखंड-मैनपुर, जिला-गरियाबंद (छत्तीसगढ़) से पूरण मेसराम छत्तीसगढ़ी भाषा में बता रहे है कि उनके गाँव में एक टिकरा पारा है जिसको पंचम पारा भी कहते है जिसमे 7 परिवार हैं जो मूल गाँव से एक किलोमीटर दूरी पर है लेकिन आज तक वहां पर हैंडपंप नहीं लगाया गया जिसके चलते लोगों को झिरिया का पानी पीना पड़ता है. गर्मी के दिनों में परेशानी बढ़ जाती है जब आए दिन लोग पानी पीकर बीमार हो रहे है कई बार P.H.E. विभाग को लिखित निवेदन भी किया गया लेकिन आज तक कार्यवाही नहीं की गई| इसलिए सीजीनेट के साथियों से मदद की अपील कर रहे है| कृपया तहसीलदार@9755480666 को फोन कर दबाव बनाएं. पूरण मेसराम@9406041761.

Posted on: May 09, 2017. Tags: POORAN MESHRAM

हमारे गाँव में सौर ऊर्जा के खम्भे लग रहे हैं पर मूल गाँव से एक किमी दूर हमारे पारा में नहीं लग रहा...

आज पूरण मेसराम ग्राम-जरहीडीही, पंचायत- अड़गड़ी, विकासखंड- मैनपुर, जिला-गरियाबंद, (छत्तीसगढ़) की यात्रा में आए हैं जहां उनकी मुलाक़ात पंचम पारा के कातिकराम नेताम से हुई है जो बता रहे हैं कि उनके गाँव में सौर ऊर्जा के खम्भे लग रहे हैं लेकिन उनका पारा जो मूल गाँव से एक किलोमीटर दूर है वहां सौर-उर्जा के खम्भे नहीं लगाया जा रहा है. वे कह रहे हैं अँधेरे में काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ता है जिसके चलते रात को बिच्छू, सर्प तथा अन्य कीड़ो का डर सताता है इसलिए साथी मदद की अपील कर रहे हैं कि सीजीनेट सुनने वाले साथी
सौर उर्जा अधिकारी@ 9907477333 से बात कर उनके पारा में भी सौर ऊर्जा लगाने का अनुरोध करें। पूरण मेसराम@9406041761

Posted on: May 09, 2017. Tags: POORAN MESHRAM

आपका स्वास्थ्य आपके मोबाइल में : एलोवेरा से घरेलू उपचार

Pooran Meshram from Mainpur area in Gariaband district in Chhattisgarh says there are not many doctors in their area so people use herbs from forest a lot. He wants to tell about one such called Aloe Vera which is known as Ghritkumari by locals. Pulp of Aloe Vera is used for burn and cuts. If you add turmeric it helps in skin disease, ulcer and also in eye problems. Girls in the area also use it for beautification. This does not have any side effects. For more Meshram@9406041761

Posted on: Sep 05, 2016. Tags: POORAN MESHRAM

जबले लागी सरकारी सुविधा के आस रे...छत्तीसगढ़ी कविता

ग्राम-जरिहाडीह, विकासखंड-मैनपुर, जिला-गरियाबंद (छत्तीसगढ़) से पूरण मेश्राम एक छत्तीसगढ़ी कविता सुना रहे हैं:
जबले लागी सरकारी सुविधा के आस रे-
मोर गांव के धरती हा मर गए पियास रे-
बांध नहर बन गए,खेती में नहीं है पानी-
बांध ह दरक गे, सरकारी सुविधा के आस रे...

Posted on: Sep 04, 2016. Tags: POORAN MESHRAM

Recording a report on CGNet Swara

Search Reports »

Loading

Supported By »


Environics Trust
Gates Foundation
Hivos
International Center for Journalists
IPS Media Foundation
MacArthur Foundation
Sitara
UN Democracy Fund


Android App »


Click to Download