10 of us worked for company for 6 months, no payment yet, Pls call company...

Rajesh Oraon is calling from Penar village under Labdag post in Meral block of Garhwa district in Jharkhand and says 10 of them worked for more than 5 months in Chaudhari Infa Engineering Pvt. Ltd in Amrawati district Maharashtra some time back but are still waiting for payment of Rs 1,90,000. Company had said they will transfer money in account but nothing yet. Pls call Collector@01212662522, Project Manager@9675336222, Director@09560782233, Head office@01242380277.Rajesh@9905790967.

Posted on: Jul 07, 2018. Tags: RAJESH ORAON SONG VICTIMS REGISTER

एक दिन मटिया में सभही के सिंगार होई, जब पिजड़ा से पंछी फरार होई...लोकगीत-

ग्राम बभनतलाव पोस्ट, थाना तहसील, जिला-रोहतास( बिहार) से सुरेंद्र उरांव एक लोकगीत सुना रहे है:-
अरे एक दिन मटिया में सभही के सिंगार होई-
जब पिजड़ा से पंछी फरार होई, जब पिजड़ा से पंछी फरार होई-
नाती नातेदार काम नही अएहे, नाती नातेदार काम नही अएहे-
गाँव के लोगवा सब खडी रही जयेहें, गाँव के लोगवा सब खडी रही जयेहें-
हो केवल भाई भततीजे सबका हार होई, हो केवल भाई भततीजे सबका हार होई-
जब पिजड़ा से पंछी फरार होई, जब पिजड़ा से पंछी फरार होई...

Posted on: Sep 01, 2017. Tags: SONG SURENDRA ORAON VICTIMS REGISTER

खाड तोडम कंका बघा रे बसर केरा जिया ही बखेरा...कुडुक गीत -

जिला-रोहतास (बिहार) से संतोष ओरांव उनकी कुडुक भाषा में एक गीत सुना रहे हैं :
खाड तोडम कंका बघा रे-
बसर केरा जिया ही बखेरा – हला कन्ने रोत रे कन्ने – मंजा जिया ही बहेरा-
खाड तोडम कंका बघा रे-
बसर केरा जिया ही बखेरा – हला कन्ने रोत रे कन्ने...

Posted on: May 22, 2017. Tags: MANOJ ORAON

बेंचा बेचा बालदान भईया...कुडुक भाषा में गीत -

ग्राम-झींगी, प्रखंड-कुडू, जिला-लोहरदगा (झारखण्ड) से शान्ति उरांव कुडुक भाषा में एक गीत सुना रही है :
बेंचा बेचा बालदान भईया-
नदिया जुरैया लैके बेचा बालदान-
राधे बेचा,बेचा बालदान दादा-
धर-धर वेळ अर धर-धर जावं-
काला कालाची आ भईया
छैला सिंगार सेलन कालची आ-
बेंचा बेचा बालदान भईया...
शान्ति उराव@8002039101 raman

Posted on: May 17, 2017. Tags: SONG Shanti Oraon VICTIMS REGISTER

यदि कोई समाज अपना इतिहास नहीं देखता, जानता, खासकर आदिवासी तो उसका जीवन व्यर्थ है...

ग्राम-भादा ,पंचायत-रोहतास, जिला-रोहतास (बिहार) से मनोज उरांव रोहतासगढ़ किले के इतिहास के बारे में बता रहे है. वे बता रहे हैं कि यह जिला मुग़ल शासन काल के समय में बनाया गया था इस जिले में आदिवासी समाज ने भी शासन किया है जिसकी पहचान है कि यहाँ पर करम पेड़ लगे हुए हैं लेकिन कुछ समय पश्चात् यहाँ से बहुत बड़ा आदिवासी समाज अन्य प्रदेशों के लिए पलायन कर गया. वे कह रहे हैं यहीं नहीं बल्कि छत्तीसगढ़, झारखण्ड आदि प्रदेशों में भी आदिवासी की यही हालत हैं हम सभी आदिवासी समाज तथा लोगों को बताना चाहते हैं कि यहाँ आकर आदिवासियों का इतिहास जरूर देखें यदि कोई पुराना इतिहास नहीं देखता है तो उसका जीवन व्यर्थ है | मनोज@7321824966

Posted on: May 16, 2017. Tags: MANOJ ORAON SONG VICTIMS REGISTER

« View Newer Reports

View Older Reports »

Recording a report on CGNet Swara

Search Reports »


YouTube Channel




Supported By »


Environics Trust
Gates Foundation
Hivos
International Center for Journalists
IPS Media Foundation
MacArthur Foundation
Sitara
UN Democracy Fund


Android App »


Click to Download