जंगल घूमा चाचा जी ने, दूरबीन ले साथ में, दूर-दूर की चिड़िया दिखती, उनको अपने पास में...बाल कविता

ग्राम-मेंढारी, पोस्ट-कर्मडीहा, तहसील-वाड्रफनगर, जिला-बलरामपुर (छत्तीसगढ़) से ओमप्रकाश मरकाम जंगल के बारे में एक बाल कविता सुना रहें हैं:
जंगल घूमा चाचा जी ने, दूरबीन ले साथ में-
दूर-दूर की चिड़िया दिखती, उनको अपने पास में-
ऊचें पेड़ पर चढ़कर देखा, एक तेंदुआ नीचें-
तभी अचानक देखा बंदर, दौड़ा उसके पीछें-
चाचाजी ने जंगल में जो कुछ भी देखा, उसको अपनी डायरी में नोट कर लिया...

Posted on: May 25, 2018. Tags: OMPARKASH MARKAM

Recording a report on CGNet Swara

Search Reports »

Loading

Supported By »


Environics Trust
Gates Foundation
Hivos
International Center for Journalists
IPS Media Foundation
MacArthur Foundation
Sitara
UN Democracy Fund


Android App »


Click to Download