नदी में पुल नहीं बना है बाढ़ आने से आवागवन बाधित होता है...कृपया मदद करें-

ग्राम-सिंगपुर, तहसील-पंडरिया, जिला-कबीरधाम (छत्तीसगढ़) से ओमकार मरकाम बता रहे हैं| ग्राम बाकी पथरा के पास एक नदी है| जिसमे पुल नहीं बना है| जिसके कारण वहां के लोगो को आने जाने में दिक्कत होती हैं| बारिश के दिनों में पानी ज्यादा भर जाने से बच्चे स्कूल नहीं जा पाते हैं| इसलिये वे सीजीनेट के साथियों से अपील कर रहे हैं| कि दिये गये नंबरों पर बात कर पुल बनवाने में मदद करें| जिससे लोगो को आने-जाने में दिक्कत न हो| कलेक्टर@9479118118. संपर्क नंबर@9575248234.

Posted on: Jun 22, 2019. Tags: CG KABIRDHAM OMKAR MARKAM PROBLEM

नेत्रहीन बच्चे पढ़ने के लिये ब्रेल लिपि का उपयोग करते हैं...

ग्राम-सिंगपुर, तहसील-पंडरिया, जिला-कबीरधाम (छत्तीसगढ़) से ओमकार मरकाम बता रहे हैं| ब्रेल लिपि एक एसी लिपि है| जिसका उपयोग नेत्रहीन लोगो द्वारा पढ़ने और लिखने के लिये किया जाता है| ब्रेल लिपि का अविष्कार लुई ब्रेल द्वारा सन 1821 में किया गया था| यह लिपी उभरे हुये 6 बिंदु पर आधारित होती है| 6 बिंदु से मिलकर एक सेल बनता है| प्रत्येक सेल में एक वर्ड या अक्षर लिखा जाता है| जिसे छूकर बच्चे पढ़ते हैं|

Posted on: Jun 09, 2019. Tags: CG KABIRDHAM OMKAR MARKAM STORY

मन समर्पित तन समर्पित और यह जीवन समर्पित...कविता-

ग्राम-सिंगपुर, तहसील-पंडरिया, जिला-कबीरधाम (छत्तीसगढ़) से ओमकार मरकाम एक कविता सुना रहे हैं :
मन समर्पित तन समर्पित और यह जीवन समर्पित-
चाहता हूँ देश की धरती तुझे कुछ और भी दूँ-
माँ तुम्हारा ऋण बहुत है, मै अंकिचन-
किन्तु इतना कर रहा फिर भी निवेदन-
थाल मै लाऊं सजाकर भाल जब-
कर दया स्वीकार लेना वह समर्पण...

Posted on: Jun 08, 2019. Tags: CG KABIRDHAM OMKAR MARKAM POEM

भेडिया और शहीद बकरी...कहानी-

हरे भरे पहाड़ पर बकरिया जब चरने जाती थी| तो उसमे से एक बकरी हमेशा कम हो जाती थी| भेडिये की इस हरकत से तंग आकार चरवाहे ने वहां बकरियां चराना बंद कर दिया| बकरियों ने मौत के डर से बाड़े में रहकर चरना उचित समझा | लेकिन उसमे से एक बकरी को बाड़े में कैद रहना पसंद नहीं आया| उसने सोचा अत्याचारी से कब तक बचा जा सकता है| भेड़िया किसी दिन पहाड़ी से उतरकर बाड़े में भी कूद सकता है| साथियों ने उसे समझाने का प्रयास किया| लेकिन वह मौका पाकर पहाड़ी पर चली गई| और भेडिये को खोजने लगी| काफी समय बाद उसे भेड़िया शिकार के लिये आता दिखा| वह समझ गई| उसे क्या करना है|

Posted on: Jun 08, 2019. Tags: CG KABIRDHAM OMKAR MARKAM STORY

मन की वीणा से गुंजित ध्वनी मंगलम...स्वागत गीत-

ग्राम-महेशपुर,पोस्ट-लटोरी, जिला-सूरजपुर (छत्तीसगढ़) से सावित्री यादव एक स्वागत गीत सुना रही हैं :
मन की वीणा से गुंजित ध्वनी मंगलम-
स्वागतम, स्वागतम, स्वागतम, स्वागतम-
कैसा पावन सुहावन समय आज है-
आप आये अतिथियों में सरताज है-
देव की भाति पूजन करें आज हम-
मन की बगिया से हमने कलियाँ चुनी...

Posted on: Jun 05, 2019. Tags: CG SAVITRI YADAV SONG SURAJPUR WELCOME

View Older Reports »

Recording a report on CGNet Swara

Search Reports »

Loading

Supported By »


Environics Trust
Gates Foundation
Hivos
International Center for Journalists
IPS Media Foundation
MacArthur Foundation
Sitara
UN Democracy Fund


Android App »


Click to Download