गिनती नही आती, मेरी माँ को यारो, मैं एक रोटी मांगता हूँ, वह हमेशा दो ही लेकर आती है...कविता

ग्राम-कूकदूर, तहसील-पंडरिया, जिला-कबीरधाम (छत्तीसगढ़)से मिथिलेश माणिकपुरी एक कविता सुना रहे है:
गिनती नही आती, मेरी माँ को यारो-
मैं एक रोटी मांगता हूँ, वह हमेशा दो ही लेकर आती है-
जन्नत का हर लम्हा दीदार किया था, गोद में उठाकर जब माँ ने प्यार किया था-
सब कह रहे थे आज माँ का दिन है, वो कौन सा दिन जो माँ के बिन है-
सन्नाटा छा गया बटवारे के हिस्से में, जब माँ ने पूछा मै हूँ किसके हिस्से में-
इस बार मुक्मल तलाश ही लूँगा, पता नही गम छुपाकर हमारे माँ बाप कहा रखते थे...

Posted on: May 25, 2018. Tags: MITHILESH MANIKPURI

मेरे परिवार के राशनकार्ड के लिए 4 सालों में कई बार आवेदन दे चुका, अभी तक नहीं बना...

ग्राम-तेलियापानी लेदरा, तहसील-पंडरिया, जिला-कबीरधाम (छत्तीसगढ़) से सुखीराम बता रहे है, 4 साल से राशनकार्ड नही बना है. शादी के भी चार साल हो गये है राशनकार्ड नही होने से बहुत परेशानी होती है, अभी मजदूरी मेहनत कर परिवार का लालन पोषण कर रहा हूँ. अगर राशनकार्ड बन जाता तो सरकारी राशन मिलता जिससे सहयोग मिल जाता, इस हेतु कई बार पंचायत में आवेदन दिया है, लेकिन सुनवाई नही हो रही है. इसीलिए सीजीनेट के साथियों से मदद की अपील कर रहे है, कृपया राशनकार्ड बनवाने में मदद करे. कृपया इन नम्बरों पर फोन करे: सचिव@9109560519, उपसरपंच@ 9644741264. सम्पर्क ग्रामीण@9617396624.

Posted on: May 25, 2018. Tags: MITHILESH MANIKPURI

माँ सवेदना है, भावना है एहसास है, माँ जीवन के फूलों में खुशबू का वास है...कविता

ग्राम-कूकदूर, तहसील-पंडरिया, जिला-कबीरधाम (छत्तीसगढ़) से मिथिलेश माणिकपुरी ओम व्यास की माँ के उपर एक कविता सुना रहे है:
माँ सवेदना है, भावना है एहसास है, माँ जीवन के फूलों में खुशबू का वास है-
माँ रोते हुवे बच्चों का खुशनुमा पालना है, माँ मरुस्थल में नदी या मीठा झरना है-
माँ लोरी है, गीत है, प्यारी सी थाप है, माँ पूजा की थाली है, मन्त्रो का जाप है-
माँ आँखों का सिसकता हुआ किनारा है, माँ ममता की धारा है, गालो पर पप्पी है-
माँ बच्चों के लिए जादू की झप्पी है, माँ झुलसते हुए दिनो में कोयल की बोली है-
माँ मेहँदी है, कुमकुम है, सिन्दूर है, रोली है, माँ त्याग है, तपस्या है, सेवा है...

Posted on: May 25, 2018. Tags: MITHILESH MANIKPURI

हमारे आदिवासी पारा में हैंडपंप नहीं है, डेढ़ किलोमीटर दूर नाले से गंदा पानी लाकर जीते हैं...

गुर्रा पारा, ग्राम-तेलियापानी लदरा, तहसील-पंडरिया, जिला-कबीरधाम (छत्तीसगढ़) से
ग्रामीण पहलवान बता रहे है, हमारे पारा में 10-12 परिवार डेढ़ किलोमीटर दूर झिरिया से पानी लाते है| इस समस्या के निराकरण के लिए कई बार शिकायत कर चूके है, परन्तु ध्यान नही दे रहे है| गर्मी हो या बारिश एक मात्र पानी का स्रोत झिरिया है, बारिश के दिनों में बहुत समस्या होती है, सीजीनेट के साथियों से मदद की अपील कर है कृपया नलकूप लगाने में इन नम्बरों पर फोन कर मदद करे: PHE@9893883154,सचिव@9109560519,उपसरपंच@9644741264. सम्पर्क@9165801357.

Posted on: May 24, 2018. Tags: MITHILESH MANIKPURI

हमारे स्कूल के सामने पक्की सड़क नहीं होने से बारिश के दिनों में बहुत कीचड़ हो जाता है...

स्कूल पारा, ग्राम-भंगी टोला, पंचायत-पोलमी, तहसील-पंडरिया, जिला-कबीरधाम,
(छत्तीसगढ़) से संतोष बता रहे है, गाँव के पटेल पारा से स्कूल पारा तक सीसी रोड़ नही है| इस समस्या को लेकर ग्राम पंचायत में कई बार बोला है, परन्तु ध्यान नही देते| बरसात के दिनों चिकनी मिट्टी होने के कारण बहुत परेशानी होती है. बरसात में स्कूली बच्चों समेत समस्त ग्राम वासियों को परेशानी झेलनी पड़ती है, सीजीनेट सुनने वाले साथियों से मदद की अपील कर रहे है. कृपया इन नम्बरों पर फ़ोन कर मदद करे: सरपंच@8085079476, विधायक@9522898888. संपर्क-स्कूल अध्यापक भंगी टोला@9755134418.

Posted on: Apr 29, 2018. Tags: MITHILESH MANIKPURI

« View Newer Reports

View Older Reports »

Recording a report on CGNet Swara

Search Reports »

Loading

Supported By »


Environics Trust
Gates Foundation
Hivos
International Center for Journalists
IPS Media Foundation
MacArthur Foundation
Sitara
UN Democracy Fund


Android App »


Click to Download