आपका स्वास्थ्य आपके मोबाइल में : खांसी का घरेलू उपचार -

ग्राम पंचायत-कुमली, पोस्ट-दाढ़ीभानपुर, विकासखण्ड-मवई, जिला-मंडला (मध्यप्रदेश) से मिट्ठनलाल यादव बता रहे है कि खांसी की समस्या अधिकतर बूढ़े लोगो को आती है जिसकी आज वे एक घरेलू उपचार विधि बता रहे है| भूरा कुमड़ा का रस 500 ग्राम निकाले उसके बाद गाय के घी के साथ उसको फ़्राय कर ले और सिका हुआ चना 10 ग्राम पीसे, झेलवा का गोटी 6 नग ले, चन्दन लकड़ी का छाल लाकर पीस ले, पीसकर मिश्रण बना ले अब इसको सुबह -सुबह खाली पेट 50 ग्राम पानी के साथ पीए तो धीरे धीरे खांसी की समस्या में लाभ मिलेगा | अधिकतर सयाने लोगों को इस इलाज़ से फ़ायदा होता है | मिट्ठनलाल यादव@7828287936.

Posted on: May 28, 2017. Tags: MITTHAN LAL YADAV

आपका स्वास्थ्य आपके मोबाइल में : पेट दर्द का घरेलू उपचार

ग्राम पंचायत कुम्हली पोस्ट दाड़ी भानपुर, विकासखंड मवई, जिला मंडला (मध्यप्रदेश) से वैद्य मिट्ठन लाल यादव पेट दर्द की तकलीफ का उपचार बता रहे हैं | उनके अनुसार आप को करुहा गिर्ची नामक पेड़ जिससे जूस निकलता तथा पाढ़हिन नामक पौधे जो बेल की तरह होता है इसका जड़ यह दोनों वनस्पति जंगलो में पाया जाता है इनको खोजना है | गिर्ची पेड़ का आधा किलो छाल निकाल लेवे तथा पाढ़हिन पौधे का जड़ और दोनों को सुखा कर पावडर बना लेवे तत्पश्चात पीडित को प्रतिदिन 10-10 ग्राम खिलावे शीघ्र ही लाभ होगा | इससे पेट बड़ा होना और पेट में कीड़े की बीमारी को भी फ़ायदा होता है इस रोग से मनुष्य का शरीर कमजोर हो जाता है और इस चूर्ण को थोड़े दिन लेने से पेट साफ़ और वह तंदरुस्त हो जाता है । यादव@7828287936

Posted on: Nov 07, 2016. Tags: MITTHAN LAL YADAV

छुनुर छुनुर पैजन बजे भैया कौन अहिरा आये...दीवाली दोहा

ग्राम पंचायत-कुम्हली, पोस्ट -दाढ़ी भानपुर, विकासखण्ड-मवई जिला-मंडला (मध्यप्रदेश) से मिट्ठनलाल यादव दीवाली के पर्व पर गाया जाने वाला दोहा सुना रहे है, यह गीत दीवाली के समय यादव सम्प्रदाय के साथी गाते हैं :
छुनुर छुनुर पैजना बजे भैया कौन अहिरा आये-
अरे कौन अहिरा आये-
टाटी खोफा झांक के देखय रे मोर रही कहे मोर दोहैया आय-
झार झरोखा झांक के देखय रे मोर दोहैया आय-
ओहो...

Posted on: Nov 04, 2016. Tags: MITTHAN LAL YADAV

ए मकैया के भात रान्धेव, ए दाही रे देवाकी दार...अहीर अमुदाय का दीपावली गीत

ग्राम पंचायत कुम्हली पोस्ट दाढ़ी भानपुर विकासखंड मवई जिला मंडला (मध्यप्रदेश) से मिठ्ठन लाल यादव दीपावली का एक दोहा सुना रहे है, यह गीत अहीर समुदाय के साथी गाते हैं :
ए मकैया के भात रान्धेव,ए दाही रे देवाकी दार-
ए हो दाही रे देवाकी दार पांच कांवर के जेवन ना पायो-
मांछी रे देवाकी दार ये हो दाही रे देवाकी दार...

Posted on: Nov 01, 2016. Tags: MITTHAN LAL YADAV

आपका स्वास्थ्य आपके मोबाइल में : पालतू जानवरों के दस्त का घरेलू उपचार

ग्राम पंचायत कुम्हली पोस्ट दाड़ी भानपुर, विकासखंड मवई, जिला मंडला (मध्यप्रदेश) से मिट्ठन लाल यादव पशुओं के दस्त का उपचार बता रहे है | पशुओं को जब पेचिश होता और उनका मल याने गोबर पतला होता है उस समय इस साधारण उपचार से रोग पर नियंत्रण पाया जा सकता है| “मेदा” पेड़ की छाल जिसका वानस्पतिक नाम LITSEA GLUTINOSA है को एक किलो और सरई SHOREA ROBOSTA जिसको साखू अथवा शाल वृक्ष भी कहते है उसके पेड़ से प्राप्त रंजक (लोभान) को मिलाकर पीसकर पावडर बनाकर रख लेते है | फिर पीड़ित पशु को प्रतिदिन उनके आहार में मिलाकर खिलाने से दस्त ठीक हो जाता है ,दस्त के ठीक होने तक खिलाते रहे |दो से तीन दिन में रोगी पशु स्वस्थ हो जाता है | मिट्ठन@7828287936

Posted on: Oct 03, 2016. Tags: MITTHAN LAL YADAV

View Older Reports »

Recording a report on CGNet Swara

Search Reports »

Loading

Supported By »


Environics Trust
Gates Foundation
Hivos
International Center for Journalists
IPS Media Foundation
MacArthur Foundation
Sitara
UN Democracy Fund


Android App »


Click to Download