दशरथ जी के लाल हमने वन में जाके देखे हैं...गीत-

ग्राम-राजापुर, पोस्ट-लड़वारी, जिला-निवाड़ी (मध्यप्रदेश) से मनोज कुसवाहा एक गीत सुना रहे हैं :
दशरथ जी के लाल हमने वन में जाके देखे हैं-
सांथ सुकुमारी सीता यही तो परेखे हैं-
कैसे-कैसे वर मांगे, निरदई परी केकई रानी-
कटी नहीं जीभ जाकी, निकली मुख से कैसी वाणी-
दशरथ जी के लाल हमने वन में जाके देखे हैं...

Posted on: Mar 18, 2019. Tags: MANOJ KUSWAHA MP NIWARI SONG

मीठी वाणी बोले राम, पति के पावन सीता राम...रामायण श्लोक-

ग्राम-राजापुर, पोस्ट-लड़वारी, जिला-निवाड़ी (मध्यप्रदेश) से मनोज कुसवाहा रामायण श्लोक सुना रहे हैं:
परशुराम क्रोधित हो आये, दुष्ट भूप मन में हरसाए-
जनक राज ने किया प्रणाम-
पति के पावन सीता राम-
बोले लखन सुनो मुनि ज्ञानी-
संत नहीं होते अभिनामी-
मीठी वाणी बोले राम, पति के पावन सीता राम...

Posted on: Mar 16, 2019. Tags: MANOJ KUSWAHA MP NIMADI SHLOKA

सूना पड़ा है बृजधाम पुकारे सखी आ जाना...गीत-

ग्राम-राजापुर, पोस्ट-लड़वारी, जिला-टीकमगढ़ (मध्यप्रदेश) से मनोज कुशवाहा एक गीत सुना रहे हैं :
आ जाना, आ जाना-
सूना पड़ा है बृजधाम पुकारे सखी आ जाना-
सब ले ले पुकारे नाम, तुम्हारी सखी आ जाना-
पीछे तेरे रहते हैं सारे स्वामी-
गऊवें है भूखे, बछड़े पीते न पानी-
सूना पड़ा है बृजधाम पुकारे सखी आ जाना...

Posted on: Mar 12, 2019. Tags: MANOJ KUSWAHA MP SONG TIKAMGARH

तोता तोता दिया हुंकारा, अमर कथा न सुनी हुमायु, सोच रहे हुंकारा...गीत-

ग्राम-राजापुर, पोस्ट-लड़वारी, जिला-टीकमगढ (मध्यप्रदेश) से मनोज कुशवाहा एक गीत सुना रहे हैं:
तोता तोता दिया हुंकारा, अमर कथा न सुनी हुमायु-
सोच रहे हुंकारा-
अविनासी के नासी कासी अपनी अलख बताई थी-
बैठ गुफा में गोरा जी अमर कथा सुनाई थी-
आज यहां पर कोण तीसरा, गोरा इस वक्त आया है-
चढ़ा क्रोध जब शंकर जी को, कर त्रिशूल उठाया है...

Posted on: Mar 12, 2019. Tags: MANOJ KUSHWAHA MP SONG TIKAMGARH

आइये इस बारिश हम सब 5-5 पेड़ लगाएं, स्वच्छ हवा के लिए पेड़-पौधे लगाना अति आवश्यक है...

ग्राम-राजापुर, पोस्ट-लड्वारी, जिला-टीकमगढ (मध्यप्रदेश) से मनोज कुमार कुशवाहा बता रहे हैं कि इस समय बरसात का मौसम है, लेकिन आज भी देश के कई राज्यों में पीने के लिए पानी नहीं है| उसका मुख्य कारण वन की कमी है, क्योंकि आजकल वहां पर वन सम्पदा अधिक नहीं है| वहां के लोगो ने पेड़ पौधो को नष्ट कर दिया है, मातृभूमि को बंजर बना दिया है| क्यों न अपनी मातृभूमि की सेवा सभी श्रोता 5-5 पेड़ लगाकर करें | इसलिए पर्यावरण को स्वच्छ बनाने के लिए पेड़-पौधे अति आवश्यक है, हमें अधिक से अधिक पौधे लगाना चाहिए जिससे शुद्ध वायु वातावरण में रहे जिससे हमारे वातावरण में किसी तरह से कोई प्रभाव न हो| मनोज कुमार@9752312263.

Posted on: Aug 09, 2018. Tags: CULTURE MANOJ KUMAR KUSHWAH TIKAMGARH

View Older Reports »

Recording a report on CGNet Swara

Search Reports »

Loading

Supported By »


Environics Trust
Gates Foundation
Hivos
International Center for Journalists
IPS Media Foundation
MacArthur Foundation
Sitara
UN Democracy Fund


Android App »


Click to Download