सोहर गीत : जचा रानी ने जाये अनोखा सुन्दर लल्लना...

ग्राम-छुलकारी, पोस्ट-फुनगा, जिला-अनुपपुर (मध्यप्रदेश) से श्रीमती मंदाकनी मिश्रा एक सोहर गीत सुना रहें है:
जचा रानी ने जाये अनोखा सुन्दर लल्लना-
सासु जो आयें पिपरी पिसन को-
उन्होनें मांगी बिंदी हमनें सुनी मेहँदी-
लेके आना साजन रचानें वाली मेहँदी-
जचा रानी ने जाये अनोखा सुन्दर लल्लना...

Posted on: Nov 10, 2019. Tags: ANUPPUR CG MANDAKNI MISHARA SONG

देवी गीत : हो जाओ दीनदयाल महामाई अब की बेर...

ग्राम-छुलकारी,पोस्ट फुनगा, जिला-अनुपपुर (मध्यप्रदेश ) से मंदाकनी मिश्रा एक देवी गीत सुना रही हैं:
हो जाओ दीनदयाल महामाई अब की बेर-
हो जाओ मेरी सहाय महामाई अब की बेर-
अब की बेर ओ मेरी माता सिंदूरा लेके आना-
अब की बेर ओ मेरी माता बिंदिया लेके आना-
लाना-लाना रे सिंदूरबा लाल महामाई अब की बेर-
अब की बेर ओ मेरी माता साड़ी लेके आना-
लाना-लाना रे चूनर लाल महामाई अब की बेर-
हो जाओ दीनदयाल महामाई अब की बेर...

Posted on: Nov 07, 2019. Tags: ANUPPUR MP MANDAKNI MISHRA SONG

कदू ने लालन ना जाये शक्ल कंद नाचन को आयें...सोहर गीत

ग्राम-छुलकारी, पोस्ट-फुनगा, जिला-अनुपपुर (मध्यप्रदेश) से श्रीमती मंदाकनी मिश्रा एक सोहर गीत सुना रहें है:
कदू ने लालन ना जाये शक्ल कंद नाचन को आयें-
पिपरी पिसन को सासू बुलाई पिपरी पिसन को सासू बुलाई-
लवकी में पिपरी पिसयें शक्ल कंद नाचन को आयें-
लड्डू बंधन को जेठी बुलाई आलू ना लड्डू ना बंधाई-
पथिया रन्धन को छोटी बुलाई गोभी ने पथिया बनाई-
कदू ने लालन ना जाये शक्ल कंद नाचन को आयें...

Posted on: Nov 07, 2019. Tags: ANUPPUR MANDAKNI MISHARA SONG

आये मेहमान बड़े प्यारे लगत हैं...गारी गीत-

ग्राम-छुलकारी, पोस्ट-फुनगा, जिला-अनूपपुर (मध्यप्रदेश) से मंदाकनी मिश्रा एक गारी गीत सुना रही हैं :
आये मेहमान बड़े प्यारे लगत हैं-
काहे की सब्जी बनाऊ मोरे लाल-
लौकी बनाऊ मेरी डौकी लगत है-
आलू बनाऊ मेरी सालू लगत है-
भाजी बनाऊ मेरी आजी लगत है-
कटहल बनाऊ बड़ी अटहल लगत है-
आये मेहमान बड़े प्यारे लगत हैं...

Posted on: Nov 05, 2019. Tags: ANUPPUR MANDAKNI MISHRA MP SONG

भजन करो मस्त जवानी में बुढ़ापा किसने देखा है...भजन गीत-

ग्राम-छुलकारी, पोस्ट-फुनगा, जिला-अनूपपुर (मध्यप्रदेश) से मंदाकनी मिश्रा एक गीत सुना रही हैं :
भजन करो मस्त जवानी में बुढ़ापा किसने देखा है-
बुढ़ापा किसने देखा है, बुढ़ापा किसने देखा है-
अगर हम अंधे हो जायेंगे, भजन हम पढ़ नहीं पायेंगे-
भजन पढ़ो मस्त जवानी में बुढ़ापा किसने देखा है-
अगर हम लंगड़े हो जायेंगे, तीरथ हम कर नहीं पायेंगे-
तीरथ करो मस्त जवानी में, बुढ़ापा किसने देखा है...

Posted on: Aug 02, 2019. Tags: ANUPPUR MANDAKNI MISHARA MP SONG

View Older Reports »

Recording a report on CGNet Swara

Search Reports »

Loading

Supported By »


Environics Trust
Gates Foundation
Hivos
International Center for Journalists
IPS Media Foundation
MacArthur Foundation
Sitara
UN Democracy Fund


Android App »


Click to Download