मै ऐसी गारी गांउ लाला सरकत जाए सोंहारी...गारी गीत-

ग्राम-छुलकारी, जिला-अनूपपुर (मध्यप्रदेश) से मंदाकनी मिश्रा एक गारी गीत सुना रही हैं :
मै ऐसी गारी गांउ लाला सरकत जाए सोंहारी-
काहेन के तोर बेलन बने हैं, काहेन के चौपाई-
चंदन के तेरी बेलन बनो है, चंदन की चौपाई-
काहेन के तोर पूड़ी बनो हैं, काहेन के तरकारी-
मैदे की पूड़ी बनो हैं कटहल की तरकारी-
चारो भईया जेवन बैठे, परसे है महतारी...

Posted on: Jul 01, 2018. Tags: MANDAKINI MISHRA

बालू रेता की बनाऊ भोलेनाथ, चढ़ाऊ जल भर-भर के...भक्ति गीत

ग्राम-छुलकारी, पोस्ट-पसला, जिला-अनूपपुर (मध्यप्रदेश) से मन्दाकिनी मिश्रा एक भजन गीत सुना रहे है:
रेता बालू की बनाई भोलेनाथ, चढ़ाऊ लोटा जल भर के-
मांगू मांगू राम जैसे स्वामी, देवर लक्ष्मण जैसे-
बालू रेता की बनाऊ भोलेनाथ, चढ़ाऊ जल भर-भर के-
मांगू मांगू राम जैसे स्वामी, देवर लक्ष्मण जैसे-
बालू रेता की बनाऊ भोलेनाथ, चढ़ाऊ जल भर-भर के-
रेता बालू की बनाई भोलेनाथ, चढ़ाऊ लोटा जल भर के...

Posted on: Apr 22, 2018. Tags: MANDAKINI MISHRA

सीता सुखमारी की हो रही सगाई, चलो देखन को...शादी गीत

ग्राम-छुलकारी, पोस्ट-पसला, जिला-अनूपपुर (छत्तीसगढ़) से मन्दाकिनी मिश्रा एक शादी गीत सुना रही है:
सीता सुखमारी की हो रही सगाई, चलो देखन चली-
मइके की बेन्दी उतार बेटी रख दी, ससुरे की बेन्दी में हो रही बिदाई-
चलो देखन को चली-
मइके की झूमक उतार बेटी रख दी, ससुरे की बेन्दी में हो रही बिदाई-
सीता सुखमारी की हो रही सगाई, चलो देखन चली-
मइके की कंगना उतार बेटी रख दी, ससुरे की कंगना में हो रही बिदाई-
मइके की साड़ी उतार बेटी रख दी, ससुरे की साड़ी में हो रही बिदाई...

Posted on: Apr 20, 2018. Tags: MANDAKINI MISHRA

आँगन में पुराया चौंक किसके लिए, पूछो पूछो बन्नी के बाबा से...बन्नी गीत

ग्राम-छुलकारी, पोस्ट-पसला, जिला-अनूपपुर (मध्यप्रदेश) से मन्दाकिनी मिश्रा एक गीत सुना रहे है:
आँगन में पुराया चौंक किसके लिए, पूछो पूछो बन्नी के बाबा से-
पूछो पूछो बन्नी के दादी से, बाबा की कमाई किस दिन के लिए-
पूछो पूछो बन्नी के मम्मी से, पापा की कमाई किस दिन के लिए-
पूछो पूछो बन्नी के चाची से, चाचा की कमाई किस दिन के लिए-
आँगन में पुराया चौंक किसके लिए, पूछो पूछो बन्नी के बाबा से-
पूछो पूछो बन्नी के मामी से, मामा की कमाई किस दिन के लिए...

Posted on: Apr 19, 2018. Tags: MANDAKINI MISHRA

पलना हिला न देना, मेरा लालन जगा न देना...गीत

ग्राम-छुलकारी, पोस्ट-पसला, जिला-अनूपपुर (मध्यप्रदेश) से मन्दाकिनी मिश्रा एक गीत सुना रही है:
पलना हिला न देना, मेरा लालन जगा न देना-
सासु जो आये साजन, बिंदिया दिला न देना-
जेठी जो आये साजन, झूमक दिला न देना-
छोटी जो आये साजन, कंगना दिला न देना-
पलना हिला न देना, मेरा लालन जगा न देना-
सासु जो आये साजन, बिंदिया दिला न देना...

Posted on: Apr 16, 2018. Tags: MANDAKINI MISHRA

« View Newer Reports

View Older Reports »

Recording a report on CGNet Swara

Search Reports »

Loading

Supported By »


Environics Trust
Gates Foundation
Hivos
International Center for Journalists
IPS Media Foundation
MacArthur Foundation
Sitara
UN Democracy Fund


Android App »


Click to Download