माटी होही तोर चोला रे संगी...छत्तीसगढ़ी गीत-

ग्राम-लांजित, जिला-सूरजपुर (छत्तीसगढ़) से मनबोध सिंह मरकाम एक छत्तीसगढ़ी गीत सुना रहे हैं:
माटी होही तोर चोला रे संगी-
माटी मे उपजे माटी मै बाढ़े-
मत बन ककरो दुश्मन बैरी-
जना हैं एक दिन तोला रे संगी-
माटी होही तोर चोला...

Posted on: Dec 06, 2017. Tags: MANBODH SINGH MARKAM