तोला कैसे के भुलाहू मोरे बड़ादेव तोला कैसे के...गोंडवाना भक्ति गीत -

ग्राम-उभेगाँव, जिला-छिन्दवाडा, (मध्यप्रदेश) से माला धुर्वे एक छत्तीसगढ़ी बड़ादेव गीत सुना रही हैं :
तोला कैसे के भुलाहू मोरे बड़ादेव तोला कैसे के-
आहूं तो काहे चसक दारी यहाँ देखत रैथो तोर साथी-
पूजा करहूं मै तोर होकी होती में धोती लंगोट खोची – आमा पकी में हिलाऊ कैसे मोला आवै निदिया गिराऊ कैसे...

Posted on: May 29, 2017. Tags: MALA DHURVE

मेरा देश सलोना देश चांदी-सोने वाला देश...देशभक्ति कविता -

ग्राम-उभेगाँव, जिला-छिंदवाडा (मध्यप्रदेश) से माला धुर्वे एक कविता सुना रही है :
मेरा देश सलोना देश-
चांदी-सोने वाला देश-
पर्वत-घाटी वाला देश-
सोंधी माटी वाला देश-
मीठे झरनों वाला देश-
जग में बहुत निराला देश-
आगे-आगे बढता देश-
नहीं किसी से लड़ता देश-
प्राणों से भी प्यारा देश-
न्यारों से भी प्यारा देश-
जो आँखों का प्यारा देश-
मेरा देश तुम्हारा देश-
तुमको राह दिखाता देश-
गीत प्यार के गाता देश-
पवन बनाती गंगा-
ऊँची रखती इसे तिरंगा-
विश्व शांति है इसका नारा-
ऐसा भारत पर्व हमारा-
काम अनोखा करता देश-
नित्य निखरता मेरा देश-
मेरा देश सलोना देश-
चांदी-सोने वाला देश...

Posted on: May 26, 2017. Tags: MALA DHURVE

भेड़िया आया, भेड़िया आया: मूर्ख गडरिया की कहानी...

ग्राम-उभेगाँव, जिला-छिन्दवाड़ा (मध्यप्रदेश) से माला धुर्वे एक पंचतंत्र की कहानी सुना रही हैं- एक गडरिया था जिसका नाम सोहन था वो भेड़ चराता था एक दिन उसको मजाक सूझा वह जोर से चिल्लाया भेड़िया आया, भेड़िया आया.. सभी किसान भाग कर आये लेकिन वहां कोई भेड़िया नहीं था, किसानों ने पूछा- कहाँ है भेड़िया ,गडरिया ने कहा- मैं मजाक कर रहा था, सभी किसान चले गये, फिर एक दिन ऐसे ही और किया फिर किसान आये और चले गए, लेकिन एक दिन पुनः गडरिया ने चिल्लाया कि भेड़िया आया, भेड़िया लेकिन कोई भी उसके पास नहीं आया और भेड़िया एक भेड़ को उठा ले गया तब उसने कहा कि यदि मैंने झूठ नहीं बोला होता तो आज मेरी भेड़ को भेड़िया नहीं ले जाता | माला धुर्वे@8719877544

Posted on: May 24, 2017. Tags: MALA DHURVE

आम की लस्सी बनाने की विधि-

ग्राम-उभेगाँव, जिला-छिंदवाडा (मध्यप्रदेश) से माला धुर्वे आम की लस्सी बनाने की विधि बता रही हैं, एक आम, एक कप दही, 2 महीन कटे पिश्ते लें. सर्वप्रथम आम को छीलकर उसका गूदा निकालकर गुठली फेंक दे इसके बाद छोटे-छोटे टुकड़ों में काटकर ग्राइंडर में आम के टुकड़े, बर्फ यदि जरूरत हो, पिश्ते, दही आदि डालकर ग्राइंड कर ले लस्सी तैयार हो जायेगी इसके बाद स्वादानुसार चीनी मिला लीजिये ,चीनी की जगह शहद या खांड मिला सकते हैं बर्फ की जगह ठंडा पानी मिला सकते हैं और इलायची भी मिला सकते हैं जब भी कुछ ठंडा पीने की इच्छा हो तब आप तुरंत ही इसको बना सकते हैं यह स्वादिष्ट होने के साथ गर्मी के दिनों में शरीर के लिए बहुत उपयोगी है | माला धुर्वे@8719877544

Posted on: May 16, 2017. Tags: MALA DHURVE

आपका स्वास्थ्य आपके मोबाइल में : आँख और नाक की शुष्कता दूर करने के लिए घरेलू उपचार -

ग्राम-उभेगाँव, जिला-छिंदवाड़ा (मध्यप्रदेश) से माला धुर्वे आँख और नाक की शुष्कता दूर करने के लिए घरेलू उपचार बता रही हैं, वे बता रही हैं रात को नाभि में सरसों का तेल लगाकर सोएं, त्रिफला चूर्ण को पहले उबालें फिर उसकों महीन कपडे में छान कर दिन में दो बार उस पानी से आँख धोने से लाभ होगा। सप्ताह में एक बार गुलाब जल से आँखों को धोना चाहिए। खाली पेट 5-6 काली मिर्च गरम पानी के साथ खाएं यह शरीर से हानिकारक तत्वों को बाहर निकालता है, प्रतिरोधक क्षमता बढाने के लिए रोज भिगोई हुयी मुट्ठी भर बादाम खाएं इससे जोड़ो में चिकनाहट बनी रहती है ,रोज दो कली लहसुन भी खाएं ,खाली पेट अदरक खाने से कोलेस्ट्रोल भी कम होता है| माला धुर्वे@8719877544

Posted on: May 16, 2017. Tags: MALA DHURVE

View Older Reports »

Recording a report on CGNet Swara

Search Reports »

Loading

Supported By »


Environics Trust
Gates Foundation
Hivos
International Center for Journalists
IPS Media Foundation
MacArthur Foundation
Sitara
UN Democracy Fund


Android App »


Click to Download