स्वास्थय स्वर : दर्द नाशक तेल बनाने की विधि...

जिला-टीकमगढ़ (मध्यप्रदेश) से वैद्द्य राघवेन्द्र सिंह राय दर्द नाशक तेल बनाने की विधि बता रहे हैं: बैगन ( जो गोल , नीला, या काला हो) उसमे अनेक छेद करें| लहसुन की कलि को उन छेदों में डाल दें, उसके बाद लोहे की कढाई से सरसों के तेल डालकर एक-एक चम्मच मैथी, अजवाइन 10-15 लौंग (जो फूल लगी हो) इन सभी को इतना पकाएं की सभी जल जाए तो| ठंडा कर कपडे से छानकर रख लें| मरीज के जहाँ दर्द हो वहां हलके हाथों से मालिश करने से आराम मिलेगा| यह प्रयोग सभी अपने घर में आसानी से कर सकते हैं| अधिक जानकारी के लिए संपर्क नम्बर@9424759941.

Posted on: May 24, 2019. Tags: HEALTH MADHYA PRADESH RAGHVENDRA SINGH TIKAMGARH

स्वास्थ्य स्वर : खांसी के रोकथाम हेतु घरेलू उपचार...

जिला-टीकमगढ़ (मध्यप्रदेश) से वैद्द्य राघवेन्द्र सिंह राय खांसी के रोकथाम हेतु घरेलू नुस्खा बता रहे है: लघुकंदकारी (भटकटाई) यह जमीन से लगा हुआ छोटा पौधे के रूप में होता है, इसके नीली फूल होते हैं, तथा इसमें छोटे फल भी होते हैं |इसके फूल को तवे में रखकर जला लें, जलने के बाद वह जब राख हो जाए तो एक चुटकी शहद के साथ मरीज को प्रतिदिन सुबह-शाम सेवन कराने से लाभ होगा | यह प्रयोग सभी अपने घर में कर सकते हैं, बिना कोई धन खर्च किये बिना | वैद्द्य राघवेन्द्र सिंह राय@9424759941.

Posted on: May 22, 2019. Tags: MADHYA PRADESH RAGHVENDRASINGH RAI TIKAMGARH

स्वास्थय स्वर : केश (बाल) झड़ने के घरेलु उपचार...

जिला-टीकमगढ़, (मध्यप्रदेश) से राघवेन्द्र सिंह राय केश (बाल) झड़ने के घरेलु उपचार बता रहे हैं:
शीकाकाई एक वृक्ष के रूप में होता है, इसके फल एक अच्छे प्रकार के औषधि के प्रयोग में लाया जाता है| यह आयुर्वेद में बालों के लिए शिकाकाई का स्थान सर्वोपरि है, इसे उपयोग में लाने के लिए इसके फलियों को 100 या 400 ग्राम पानी में उबालें, जब पानी आधा शेष रह जाए तो उसे ठंडा कर केश (बालों) को अच्छी तरह से धोएं, ऐसा करने से बालों में मजबूती और झडन दोनों में लाभकारी सिद्ध होता है| इसका उपयोग घरों में आसानी से किया जा सकता है, बिना कोई धन खर्च किये:
राघवेन्द्र सिंह राय@09424759941.

Posted on: Mar 14, 2019. Tags: MADHYA PRADESH RAGHVENDRA SINGH RAI TIKAMGARH

ममता की खान माता नागिन बन गई है...कविता-

जिला-टीकमगढ़, (मध्यप्रदेश) से दशरथ प्रसाद रजक कविता सुना रहा है:
विनती करूं विधाता क्या भूल मुझ से भई है-
ममता की खान माता नागिन बन गई है-
न चाह न तो मुझको भैया को प्यार देना
जूठन ही बहुत है उस विधि से यही कहना-
फिर भी वो न माना डाक्टर निर्दयी है-
शमशान हर जगह है मंदिर हो या खाई-
सबको मोह लागा माता हो या ताई...

Posted on: Mar 14, 2019. Tags: DASHRATH YADAV MADHYA PRADESH TIKAMGARH

दादा हीरा मरकाम, दादा हीरा मरकाम जी के 14 जनवरी ला मनावथन...गोंडवाना गीत-

ग्राम-ताराडाड, जिला-अनुपपुर (मध्यप्रदेश) से बाबुलाल नेटी छत्तीसगढ़ी भाषा में एक गोंडवाना गीत सुना रहे हैं :
दादा हीरा मरकाम, दादा हीरा मरकाम जी के 14 जनवरी ला मनावथन-
14 जनवरी ला मनावाथन, दाई 14 जनवरी ला मनावाथन-
ये धरती मा आये के गोंडवाना बिगुल बजाये गा, गोंडवाना बिगुल बजाये-
गरीबन मन ला मजबूत बना के देश ला जगाये गा, देश ला जगाये-
तेहा करे सुग्घर काम देश मा चलथे तोर नाम, 14 जनवरी ला मनावाथन-
गोंडवाना का ये धरती मा जन-जन ला बताये गा...

Posted on: Aug 28, 2018. Tags: ANUPPUR BABULAL NETI MADHYA PRADESH MP SONG

View Older Reports »

Recording a report on CGNet Swara

Search Reports »

Loading

Supported By »


Environics Trust
Gates Foundation
Hivos
International Center for Journalists
IPS Media Foundation
MacArthur Foundation
Sitara
UN Democracy Fund


Android App »


Click to Download