मैं बंदत हों दिन रात मोर धरती मईया जय होए तोर...छत्तीसगढ़ वंदना गीत

ग्राम-माजा, पोस्ट-सरभोका, ब्लाक-रामानुजनगर, जिला-सूरजपुर के लक्ष्मण सिह एक छत्तीसगढ़ वंदना गीत सुना रहे हैं :
मैं बंदत हों दिन रात मोर धरती मईया जय होए तोर-
मोर छईन्या भूईंया जय होए तोर – सूत उठ के बड़े बिहनिया तोरे पईया लागों – सूरज जोत मा करों आरती गंगा पाव पखारों – तोर काया मा फुल चढ़ावों –
मोर धरती मईया जय होए तोर – मोर छईन्या भूईंया जय होए तोर-
तही हमन के सुख दुःख – आऊ ये जिनगी के भेरा – तोर मया में जग बिलरौं – मोर धरती मईया जय होए तोर – राजा प्रजा देवी देवता तोर कोरा में आइन – जईसन सेवा करीन तोर – वोईसनेच फल ला पाइन – तोर बलिहारी मैं जावों – मोर धरती मईया जय होए तोर...

Posted on: Sep 17, 2016. Tags: Lakshaman Singh