गडी हुई दुश्मन की न आँख चाहिए पंक्ति सुना रहें है...

राजनांदगांव छत्तीसगढ़ से वीरेंद्र गंधर्व पंक्तिया सुना रहे है – गडी हुई दुश्मन की न आँख चाहिए
सोना चाँदी हीरे मोती लीलम चढ़ा – हमे ना दाग चाहिए – पाकिस्तान हो या चीनी – यदि किसी ने जमीन चीनी – तो समझ लो हमे हत्या उनकी चीनी – हम एकता के पंछी है – होसलो लो पाक चाहिए – गडी हुई दुश्मन की न आँख चाहिए – हमे तो सोना चाँदी हीरे मोती लीलम से चड़ा-
लास्तक चाहिए हमें लास्तक चाहिए -

Posted on: Jul 06, 2020. Tags: CG GANDHARV RAJNANDGANV LINE VIRENDRA

गर्व है मुझे मैं नारी हूँ, गर्व है मुझे मैं नारी हूँ...पंक्तियाँ-

ग्राम-नवलपुर, ब्लाक-लोरमी, जिला-मुंगेली छत्तीसगढ़ से संध्या नेताम महिलाओ पर आधारित कुछ पंक्तियाँ सुना रही है:
गर्व है मुझे मैं नारी हूँ, गर्व है मुझे मैं नारी हूँ-
तोडके हर पिंजरा जाने कब मैं उड़ जाउंगी-
चाहे लाक बिचालो बंदिशे-
फिर भी दूर आसमान में अपनी जगह बनाउंगी-
गर्व है मुझे मैं नारी हूँ, गर्व है मुझे मैं नारी हूँ...

Posted on: Jul 03, 2020. Tags: HINDI LINE MUNGELI CG SANDHIYA NETAM