दादा ले लो दोंग्ल कोया ले दादा लयो सा दोंग्ल कोया ले...गोंडी विवाह गीत

ग्राम- जूवी तहसील-भामरागढ़,जिला-गढ़चिरोली (महाराष्ट्र) से लालसू नागोटी के साथ ग्रामीण महिलाएं हैं जो माड़िया गोंडी में गीत प्रस्तुत कर रहे है इस गीत को शादी के दो माह पूर्व मुदाक्ल कार्यक्रम के दौरान गाया जाता है :
दादा ले लो दोंग्ल कोया ले-
दादा लयो सा दोंग्ल कोया ले...

Posted on: Mar 06, 2016. Tags: LALSU NOGOTI

री री लो यो री री लो लो री ला ले लो ये री लो री लो....गोंडी गोटुल गीत

ग्राम-अबूझमांड़ लंका, ब्लॉक-ओरछा, जिला-नारायणपुर, छत्तीसगढ़ से गांव की युवतियां गोटुल के सामने नृत्य करते हुए एक गोंडी गीत प्रस्तुत कर रही हैं, गीत में पंडूम (उत्सव) के बारे में बताया जा रहा है :
री री लो यो री री लो लो री ला ले लो ये री लो री लो-
ये लो ये लो देवा ये लो ले ये लो ये लो देवा-
चली मे टा पोलवा ये लो ले-
वर्षा मेटा पोलवा रे लो ले...

Posted on: Feb 06, 2016. Tags: Gondi Lalsu Nogoti

पोल्बा ये पोल्बा रे ला जीस्त-जीस्त-जीस्त रो ना नो वे लो रे...गोंडी गोटुल गीत

ग्राम-अबूझमाड़ लंका, तहसील-ओरछा, जिला-नारायणपुर छत्तीसगढ़ से कुछ युवतियां गोटुल के सामने नृत्य करते हुए गोंडी गीत प्रस्तुत कर रही हैं, इस गीत को पंडूम (त्यौहार) के समय गाया जाता हैं:
पोल्बा ये पोल्बा रे ला-
जीस्त-जीस्त-जीस्त रो ना नो वे लो रे-
पीएलजीए वेक्का रो ना नो वे...

Posted on: Feb 03, 2016. Tags: LALSU NOGOTI

री री री लोयो री री लो री री लो री री लो....गोंडी गीत

ग्राम-अबूझमाण मलंका, तहसील-बैरमगढ़, जिला-बीजापुर, छत्तीसगढ़ से सुनीता, मनीषा व अन्य युवक-युवतियां गोटुल के सामने नृत्य करते हुए एक गोंडी गीत प्रस्तुत कर रहे हैं. गीत में पंडूम के बारे बताया जा रहा है:
री री री लोयो री री लो री री लो री री लो-
यलो-यलो-यलो देवने, यलो यालो यलो देवने-
बैनिंग वोयकले, वोयकले बैनिंगे वोयकले-
पोबरिंग वोयकले, वोयकले पोबरिंगे वोयकले...

Posted on: Jan 31, 2016. Tags: Gondi LALSU NOGOTI

Live songs, dance and drums from Adivasi fair in Gadchiroli, Maharashtra...

Lalsu Nogoti is visiting Bejur village in Bhamragarh area of Gadchiroli district of Maharashtra where he is witnessing a 3 day adivasi festival where people from more than 50 villages have assembled. They are singing, dancing and having fun. He helps us listen and tells their adivasis are also planning for next Pandum ( festival) in various villages where they will similarly assemble and sing and dance which an integral part of adivasi culture and way of life. For more Lalsu@9405130530

Posted on: Jan 22, 2016. Tags: GADCHIROLI LALSU NOGOTI MAHARASHTRA

« View Newer Reports

View Older Reports »

Recording a report on CGNet Swara

Search Reports »

Loading

Supported By »


Environics Trust
Gates Foundation
Hivos
International Center for Journalists
IPS Media Foundation
MacArthur Foundation
Sitara
UN Democracy Fund


Android App »


Click to Download