लहरों से डर कर नौका पार नहीं होती...कविता-

ग्राम-मलनार, पंचायत-नह्कानार, ब्लाक, जिला-कोंडागांव (छतीसगढ़) से किसन और अजय एक कविता सुना रहे हैं:
लहरों से डर कर नौका पार नहीं होती-
कोशिश करने वालो को कभी हार नहीं होती-
छोटी चिट्टी दाना लेकार जब चलती है-
चढ़ती दीवारों से सौ बार फिसलती है-
मन का विश्वास हमको साहस देता-
चढ़ कर गिरना गीर कर चढ़ना न अखरता है...

Posted on: Feb 22, 2020. Tags: CG KONDAGAON LAKHANLAL KEWAT POEM

ये दो दिन के जिंदगानी जग में करले तै भलाई...भजन-

ग्राम-बेलहा पायरी, जिला-अनूपपुर (मध्यप्रदेश) से लखनलाल केवट एक भजन सुना रहे हैं :
ये दो दिन के जिंदगानी जग में करले तै भलाई-
तोर चली नाम गा-
हमर बिगड़ी के बनईया गा रमईया राम गा-
आज जवानी है बुढ़ापा काल आही गा-
माटी के तन बईहा माटी मा मिल जाही गा-
छूट जाही घर धाम यहां नईया कुछ काम...

Posted on: Feb 01, 2020. Tags: ANUPPUR LAKHANLAL KEWAT MP SONG

Recording a report on CGNet Swara

Search Reports »

Loading

Supported By »


Environics Trust
Gates Foundation
Hivos
International Center for Journalists
IPS Media Foundation
MacArthur Foundation
Sitara
UN Democracy Fund


Android App »


Click to Download