उठो अमखी चला आमकी हमारे न रायज रे...पहाड़ी कोरवा शादी गीत

ग्राम-आमानारा, ब्लाक -धरमजयगढ़, जिला-रायगढ़ से भंवरू राम पहाड़ी कोरवा समाज का शादी गीत गा रहे हैं :
उठो अमखी चला आमकी हमारे न रायज रे-
उठोअमखी उठो चला अमखी हमारे न राजय रे-
अरे हमारे न राजय समधिनआबाड़े दुरीहा रे-
उठो अमखी चलअ मखी हमारे न रायज रे-
अरे हमारे न रायज आबाड़े दूरिया रे-
आरे हमारे न देश ओदे आबाड़े दुरीया रे-
उठो आम्खी चला आमखी हमारे न देश रे-
उठो आमखी चला आमखी आमरे न देश रे-
नही चले हँसा रायगघोड़ारे नही चले डोली जहाज रे-
ऊठो आमाखी चला आमाखी हमारे न देश रे-
नहीं चले हँसा रायजघोडा नहीं डोली जहाज रे...

Posted on: Oct 29, 2016. Tags: BHANWRU HANSDA PAHADI KORWA

Pahadi Korwa Bultoo Radio from Chhattisgarh...28th October 2016

Today Fulmet Pahadi Korwa and Kartik Ram Pahadi Korwa are presenting latest edition of Bultoo radio from Chhattisgarh. In this program they have chosen messages from Pahadi Korwa areas from where people have reported stories and sent songs in their dialects after calling CGnet Swara number 08050068000. Now this program can be downloaded by people from their Gram Panchayat office if it has Broadband or from a download centre nearby. They can also get it from someone with smartphone and internet via bluetooth

Posted on: Oct 28, 2016. Tags: CHHATTISGARH FULMET KARTIK KORWA PAHADI RAM

आपका स्वास्थ्य आपके मोबाइल में: डगडोवा जड़ी से हड्डी में दर्द का उपचार

ग्राम ऊपर सलखेता, तहसील धरमजयगढ़, जिला रायगढ़ (छत्तीसगढ़) से कुमारी सावित्री पहाड़ी कोरवा आज उनके पड़ोसी ग्राम से सहनिराम हसदा पहाड़ी कोरवा जो पुसउडेरा, ग्राम बरघाट, पंचायत गिधकालो, पोस्ट उमड़ता से हैं मिल रही हैं और वे उनको हड्डियों के दर्द होने पर वन औषधि से उपचार बता रहे है | यह जड़ी जगल में मिलता है, जिसका नाम है डगडोवा और इसके छाल को लायें और पीस ले और दर्द स्थान पर इसका लेप लगावे और कपड़ा बाँध दें तथा इसका रस निकालकर लगातार तीन दिन तक पिलाये भी तो कुछ घंटे में ही दर्द काम हो जाएगा । वे कह रहे हैं वे कई लोगों पर इस जड़ी का प्रयोग कर चुके हैं और उन्होंने पाया है कि इस इलाज से हड्डी का दर्द ठीक हो जाता है । सावित्री पहाड़ी कोरवा@7773035896

Posted on: Oct 25, 2016. Tags: SAVIRTI PAHADI KORWA

आपका स्वास्थ्य आपके मोबाइल में: भुई लीम जड़ी से मलेरिया जैसे बुखार का उपचार

हम पहाड़ी कोरवा पहाड़ के ऊपर रहते हैं तो डाक्टर बुलाने से कभी आते हैं कभी नहीं । तो मलेरिया बुखार होने पर हम हम भुई लीम का उपयोग करते हैं, पुसउ डेरा, ग्राम बरघाट, ग्राम पंचायत कुमरता, थाना कापू, तहसील धरमजयगढ़, जिला रायगढ़ (छत्तीसगढ़) से अमरु राम पहाड़ी कोरवा बता रहे है | जंगलो में मिलने वाले भुई लीम को हम लोग घर ले के आते है और गर्म कर उबालते है और रोगी को सुबह शाम पिलाते है बाल्यावस्था के लोगो को आधे गिलास तथा युवा और बुजुर्ग लोगो को एक गिलास पिलाया जाता है | इससे मैंने ५-६ लोगों को ठीक किया है तो मुझे लगता है कि भुई लीम से मलेरिया जैसा बुखार ठीक हो सकता है । सरला श्रीवास@7773035896

Posted on: Oct 24, 2016. Tags: AMARU PAHADI KORWA

दाई-ददा धारे आहन धनुहू...डोमकच गीत

ग्राम पंचायत गिधकालो, विकासखंड धरमजयगढ़, जिला रायगढ़ (छत्तीसगढ़) से सुन्दरलाल पहाड़ी कोरवा डोमकच गीत सुना रहे है:
दाई-ददा धारे आहन धनुहू-
चिवार धारा ले धनुषा बाण-
पड़की ला मारे डेना टूटी गे-
पड़की ला मारे डेना टूटी गे-
धारा रे गुलेल गोटी-
जात हव अकेला नि रे-
धारा रे गुलेल गोटी-
पड़की ला मारे डेना टूटी गे...

Posted on: Oct 22, 2016. Tags: SUNDARLAL PAHADI KORWA

« View Newer Reports

View Older Reports »

Recording a report on CGNet Swara

Search Reports »

Loading

Supported By »


Environics Trust
Gates Foundation
Hivos
International Center for Journalists
IPS Media Foundation
MacArthur Foundation
Sitara
UN Democracy Fund


Android App »


Click to Download