वनांचल स्वर : टाइफाइड का घरेलू उपचार-

ग्राम-रौचन, पोस्ट-राजा नवागाँव, तहसील-बोडला, जिला-कबीरधाम (छत्तीसगढ़) से खेलन साहू आज हमें टाईफाईड बीमारी से बचने के घरेलू उपाय बता रहे हैं, बारिश के मौसम के अक्सर ये बीमारी हो जाती है, इस बीमारी से बचने के लिए 2 ग्राम खूबकला, 10 नग मुनक्का और 5 नग अंजीर को लेकर रात को पानी फुला लें और सुबह चटनी बनाकर रोगी को खिलाना है, लगातार 5 दिन सेवन करने से आराम मिल सकता है, बच्चे को आधा सेवन कराएं, साफ़ सफाई का विशेष ध्यान रखें, अधिक जानकारी के लिए दिए गए नंबर पर संपर्क कर सकते हैं. पर बुखार होने पर चिकित्सक के पास खून की जांच कराएं, और उनसे दवा लें, वह अनिवार्य है, उसके साथ यह घरेलू उपचार भी कर सकते हैं : संपर्क नंबर@7566279950.

Posted on: Aug 03, 2018. Tags: HEALTH KABIRDHAM KHELAN SAHU VANANCHAL SWARA

वनांचल स्वर : पुरानी खांसी का घरेलू उपचार

ग्राम-रौचंद, पोस्ट-राज नवागाँव, तहसील-बोडला, जिला-कबीरधाम (छत्तीसगढ़) से वैद्य खेलन साहू पुरानी खांसी का घरेलू उपचार बता रहे हैं, जो बहुत दिन से ठीक नहीं हो रही हो. वे बता रहे हैं कि जिन व्यक्तियों को इस तरह की समस्या हो वह तुलसी का पत्ता 20 ग्राम, लौंग 10 ग्राम और 10 ग्राम काली मिर्ची सभी को अच्छे से बारीक पीसकर गुड़ के सांथ मिलाकर मटर के दाने के बराबर गोली बना कर सुबह-शाम एक गोली सेवन करने से खांसी को ठीक करने में लाभ मिलता है, इसका सेवन उम्र के अनुसार करे बच्चे आधा पीस और बड़े एक दाना सेवन करे, इससे लाभ होगा : वैद्य खेलन साहू@7566279950.

Posted on: May 17, 2018. Tags: HEALTH KHELAN SAHU VANANCHAL SWARA

वनांचल स्वर : मुनगा के जड़ से दाद खाज खुजली का घरेलू उपचार-

भोरमदेव वनांचल, जिला-कबीरधाम (छत्तीसगढ़) से वैद्य खेलन साहू आज हम सभी को दाद खाज खुजली का एक घरेलू उपचार बता रहे हैं, दाद एक चर्म रोग है, जो किसी को भी हो सकता है, जिनको दाद हो गया हो वे मुनगा, जिसे सहजन के नाम से भी जाना जाता है और यह हमें आसानी से हमारे घर के आस-पास मिल जाता है, उसकी जड़ को पत्थर से पीस कर दाद में सुबह-शाम लगाएं, लगातार इसका उपयोग करने से दाद ठीक हो सकता है और इसका असर हमारे आमदनी पर भी नही पड़ता है, इस प्रकार हमारे आसपास पाए जाने वाले वनस्पतियों में बहुत गुण हैं जिनका हम फायदा ले सकते हैं : खेलन साहू@7566279950.

Posted on: May 15, 2018. Tags: KHELAN SAHU VANANCHAL SWARA

कबीरधाम छत्तीसगढ़ के वार्षिक भोरमदेव के तीन दिवसीय मेले (15-17 मार्च) के लिए आमंत्रण...

ग्राम-रौचंद, जिला-कबीरधाम (छत्तीसगढ़) से खेलन साहू बता रहे है कि छत्तीसगढ़ राज्य के कबीरधाम जिले में जिला मुख्यालय कबीरधाम से 15 किलोमीटर दूर भोरमदेव का एक ऐतिहासिक अति प्राचीन भव्य मंदिर है जिसे देखने वर्ष भर दूर दूर से लोग आते हैं इसके साथ ही वहां पर 15 मार्च से 17 मार्च तक हर साल भव्य वार्षिक मेला का आयोजन होता है, वह जगह चारो तरफ से हरियाली से सुशोभित है, वहां काफी मात्रा में वन्य प्राणी भी पाए जाते हैं. वहां पर तीन दिन के मेले में राज्य के मुख्यमंत्री रमन सिंह भी एक दिन ज़रूर आते हैं सीजीनेट के सुनने वाले वाले सभी सांथियो को वे उस ऐतिहासिक मेले आने के लिए आमंत्रित कर रहे हैं| खेलन साहू@7566279950.

Posted on: Mar 15, 2018. Tags: KHELAN SAHU