एक उड़ता है सफर से नये आया जैसा...कविता

ग्राम-विशेषरपुर, जिला-चंदौली (उत्तरप्रदेश) से करिश्मा एक कविता सुना रही हैं :
एक उड़ता है सफर से नये आया जैसा-
दुल्हन गई वहां से भाग-
चंदा मामा दूर के, पुड़ी पकाए दूर से-
आप खाए थाली में-
मुन्नों दे दे थाली में गए टूट-
मुन्ने गए रूठ-
पानी बरसा चम-चम-
छाता लेकर निकले हम...

Posted on: Sep 26, 2017. Tags: KARISHMA CHANDOULI