किर्कोसा कर्कोसा कर्किनागल रोसा...गोंडी विवाह गीत-

ग्राम पंचायत-कोदापाखा, ब्लाक-दुर्गकोंदल, जिला-कांकेर छत्तीसगढ़ से कांतिलाल नरेटी एक गोंडी विवाह गीत सुना रहे है:
किर्कोसा कर्कोसा कर्किनागल रोसा-
जुलुम-जुलुम अनमा सांगो-
न जेके पोसा नना वान्तोना-
वायकी वायकी बिलोसा अवर गुटु दे-
निवा नवा पोलो आयल नार गुटु दे-
रे रे लोयो रे रा रा रेला रे रे लोयो रा रा रे रेला...

Posted on: Jun 30, 2020. Tags: GONDI SONG KANKER CG KANTILAL NARETI

सीता पति वरता को, फिर से कहां पाओगे...भजन-

खैरागढ़, राजनादगांव (छत्तीसगढ़) से रेखा कंट्रा एक गीत सुना रही हैं:
सीता पति वरता को, फिर से कहां पाओगे-
धोबी के कहने पर, दोष जो लगाओगे-
और बार श्री राम अग्नी पर बिठाओगे-
सीता पति वरता को, फिर से कहां पाओगे-
क्या तुम्हे यकीन नहीं है सीता की अग्नी परीक्षा... (AR)

Posted on: Jun 25, 2020. Tags: CG RAJNANDGAON REKHA KANTRA SONG

घी के गुण और लाभ...

सेतुगंगा, जिला-मुंगेली (छत्तीसगढ़) से वैद्य रमाकांत सोनी गाय के घी के विषय में जानकारी दे रहे हैं, गाय का घी जितना पुराना होता है उतना गुणकारी होता है, शक्तिवर्धक होता है, प्राचीन काल से घी को भोजन सामग्री में शामिल किया गया है, पूजा पाठ में भी हवन में घी का उपयोग होता है, इसका सेवन स्वास्थ्य के लिये लाभदायक होता है, घी का उपयोग करें और लाभ लें| संपर्क नंबर@9589906028. (AR)

Posted on: Jun 23, 2020. Tags: CG MUNGELI RAMAKANT SONI

पर्यावरण को स्वच्छ करने और संक्रमण को रोकने में यज्ञ का महत्व...

सेतुगंगा, जिला-मुंगेली (छत्तीसगढ़) से वैद्य रमाकांत सोनी यज्ञ करने से होने वाले लाभ के बारे में बता रहे हैं, भारतीय संस्कृति में यज्ञ करने का केवल धार्मिक आधार नहीं है, पर्यावरण तथा स्वास्थ्य के रक्षा के लिये भी है यज्ञ किया जाता है, आधुनिक शोध के अनुसार हवन का धुआं पर्यावरण को शुद्ध करता है और जीव जन्तुओ के स्वास्थ्य पर सकरात्मक प्रभाव डालता है, हवन में डाले जाने वाले लकड़ी से कई प्रकार के बीमारियों का नाश होता है, मेहंदी की लकड़ी जलाने से संक्रामक बीमारी को रोकने में लाभ होता है| संपर्क नंबर@9589906028. (AR)

Posted on: Jun 23, 2020. Tags: CG MUNGELI RAMAKANT SONI

साये होती न सिकार होतिन मिटत होतिन न गुटन होतिन...माड़िया भाषा में देव गीत-

नगर पंचायत-भामरागड जिला-गडचिरोली (महाराष्ट्र) से नीलकंठकिरा कोडापे हमारे सीजीनेट सुनने वाले साथियों को माड़िया भाषा में देव गीत सुना रहे हैं:
साये होती न सिकार होतिन-
मिटत होतिन न गुटन होतिन-
कुडूपूजा तो साये करामे इम्टे सामे इम्टे-
कोरोना वाता इते सामे दुर इतेत किमे-
निव इते पूजत किन्तो उन्ड़तेचा मावा CS

Posted on: Jun 21, 2020. Tags: BHAMRAGAD BADCHIROLI MH GONDI MADIA SONG NILKANTHKIRA KODAPE

View Older Reports »