5.6.31 Welcome to CGNet Swara

अरे हाँ रे हनुमत देवी शारदा लय जईयो...फाग गीत

ग्राम-छुल्कारी, जिला-अनूपपुर (मध्यप्रदेश) से कन्हैयालाल केवट अपने संगीत मंडली के सांथ एक गीत सुना रहे हैं :
अरे हाँ रे हनुमत देवी शारदा लय जईयो-
लय लय हरी का नाम पाहिले देवी शरदा लय जईयो-
अरे हाँ रे हनुमत देवी शारदा लय जईयो-
लय लय लईयो हरी का नाम पहिली देवी शारदा लय लईयो...

Posted on: Jun 13, 2018. Tags: KANHIYALAL KEWAT

हमारे गाँव के स्कूल में बाउंड्री वाल न होने से दुर्घटना की आशंका बनी रहती है, अधिकारी सुनते नहीं...

ग्राम, पोस्ट-चंदोरा, ब्लाक-प्रतापपुर, जिला-सूरजपुर (छत्तीसगढ़) से सिंघाचन पैकरा, धरमसाय पैकरा, धर्माराम पैकरा और बैजनाथ बता रहे हैं, उनके गाँव में स्कूल का बाउंड्री वाल नही बना है, बच्चे खेलते हुए सड़क तक चले जाते हैं जिसके कारण दुर्घटना होने की आशंका बनी रहती है, इसलिए बाउंड्री वाल का होना आवश्यक है, इसके लिए उन्होंने कई बार संबंधित अधिकारियों के पास आवेदन किया पर आज तक कोई सुनवाई नही हुई, इसलिए अब वे सीजीनेट के सभी सुनने वाले सथियों से अपील कर रहे हैं कि दिए गये नंबरों पर अधिकारियों से बात कर निवेदन करें जिससे स्कूल का बाउंड्री वाल बन सके: सरपंच@7772907481, सचिव@7697801195,
शिक्षा विभाग@9406278336, CEO@9165689001. पैकरा@9753225032.

Posted on: Mar 22, 2018. Tags: KANHIYALAL KEWAT

नीले सियार की कहानी: सीख : हमें किसी को अंधेरे में या धोखे में नही रखना चाहिए

एक दिन एक सियार घूमते-घूमते गाँव में एक धोबी के घर में घुस गया| उसी समय धोबी टब में नील घोलकर रखा था सियार उसी टब में गिर गया और डर कर तेजी से भागा, भागते-भागते सियार नदी के पास पंहुचा| खुद को पानी में देखकर उसे आश्चर्य हुआ क्योंकि उसका रंग बदल गया था| फिर वह वापस जंगल चला गया| जंगल में घूमते-फिरते उसे शेर की खाल मिली वो खाल को पहनकर खुद को जंगल का राजा बताने लगा और सभी जानवरों पे रौब झाड़ने लगा तभी जानवरों के झुण्ड में बैठा एक बूढा लोमड़ी उसे पहचान लिया और हुवा-हुवा की आवाज लगाने लगा, ये आवाज सुनकर वह सियार भी आवाज लगाने लगा जिससे सच्चाई सामने आ गई और सियार मारा गया| इससे सीख मिलती है कि हमें किसी को अंधेरे में या धोखे में नही रखना चाहिए |

Posted on: Mar 09, 2018. Tags: KANHIYALAL KEWAT

पान ला खाए मुह ला करे लाल...कर्मा गीत -

ग्राम-बरबसपुर, पंचायत-बारबी, ब्लाक-भानुप्रतापपुर, जिला-कांकेर (छत्तीसगढ़) से सुखवती एक कर्मा गीत सुना रही हैं :
पान ला खाए मुह ला करे लाल – जादा माया मत करबे मोरो भईया जीव के काल – अब तो डब्बा में रोना रो – तोला क्या दुःख धरे हे ड्रावल डीजल में रोना रो – पान रे खाए कचर कचर – चाय पत्ती के जवैया जातर कतर...

Posted on: Dec 29, 2017. Tags: KANHIYALAL KEWAT

मेरे पति तीन साल पहले गुज़र गए पर विधवा पेंशन अब तक नहीं मिल रहा, अधिकारी घूस मांगते हैं...

ग्राम पंचायत और पोस्ट-अमगंवा, जिला-अनूपपुर (मध्यप्रदेश) से कन्हैयालाल केवट एक वृद्ध महिला फूलमत से चर्चा कर रहे हैं वे बता रहे हैं कि इनके पति का स्वर्गवास हुवे 3 वर्ष हो चुके हैं इन्हें विधवा पेंशन नही मिल रहा है उन्होंने कई बार ब्लॉक और सरपंच उपसरपंच सचिव के पास आवेदन किया जिस पर आज कल कर टाल दे रहे है इस पर कोई कारवाही नही हो रही है और ये अधिकारी पैसा मांगते हैं इसलिए वे सीजीनेट के साथियों से अपील कर रहे है कि दिए गए नंबरो पर अधिकारियों से बात कर निवेदन करें जिससे उन्हें विधवा पेंसन मिल सके : सरपंच@8889199292, सचिव@9617734174, रोजगार सहायक@9131467521, CEO@9753725845. फूलमत@8964919215.

Posted on: Dec 14, 2017. Tags: KANHIYALAL KEWAT

View Older Reports »

Recording a report on CGNet Swara

Search Reports »


Supported By »


Environics Trust
Gates Foundation
Hivos
International Center for Journalists
IPS Media Foundation
MacArthur Foundation
Sitara
UN Democracy Fund


Android App »


Click to Download


From our supporters »