5.6.31 Welcome to CGNet Swara

किसान स्वर: धान की खेती करते है, यूरिया खाद का उपयोग नहीं करते उससे ज़मीन खराब होती है...

सीजीनेट जनपत्रकारिता यात्रा आज ग्राम-चंदेनार, जिला-दंतेवाडा (छत्तीसगढ़) में पहुँची है वहां कन्हैयालाल केवट गाँव के साथी मुरलीधर नाग, श्यामलाल नाग से बात कर रहे है जो बता रहे है कि ये सब लोग खेती करते है और ये लोग लाल धान, चूड़ीधान जैसी स्थानीय धान की किस्में बोते है और 2 से 3 खंडी धान बो लेते है | ये लोग सिर्फ गोबर खाद का उपयोग करते है और बता रहे है कि D.A.P. और यूरिया जैसे रासायनिक खाद डालने से जमीन ख़राब होता है और उससे बीमार भी पड़ जाते है इसलिए वे रासायनिक खाद का उपयोग नहीं करते हैं. ये अपना जीवन यापन करने के लिए सब्जी बरबट्टी, टमाटर भी उगाते है | इसे खाते हैं और बेचते भी हैं |कन्हैयालाल केवट@8225027272

Posted on: Oct 28, 2017. Tags: KANHAIYALAL KEWAT DANTEWADA

हमारे गाँव के अन्दर पक्की रोड नहीं है, शिकायत करने पर अधिकारी सुनते नहीं है, कृपया मदद करें...

ग्राम-मसेनार (बुलमपारा), जिला-दंतेवाडा (छत्तीसगढ़) से कन्हैयालाल केवट साथ में गाँव के साथी बता रहे है कि उनके गाँव में सीसी रोड नहीं है जिसके कारण बरसात के दिनों में पूरा गड्डा-गड्डा हो जाता है और आने जाने में बहुत दिक्कत होता है | इनके वार्ड 16 में 45 घर की बस्ती है | इसके लिए इन्होने ग्राम पंचायत में शिकायत भी किये तो आज हो जायेगा कल हो जायेगा बोल बोलकर टाल रहे है| तो इनका कहना की सीसी रोड बन जाए | जिससे लोगो को आने जाने में दिक्कत न हो| इसलिए साथी सीजीनेट सुनने वाले साथियों से मदद की अपील कर रहे है कि इन अधिकारियो को फ़ोन कर दबाव बनाये ताकि इनके वार्ड 16 में रोड बन जाए | C.E.O. 9669577888, कलेक्टर@9179530000. संपर्क मनीष कुमार@9406437270.

Posted on: Oct 25, 2017. Tags: KANHAIYALAL KEWAT DANTEWADA

किसान स्वर: हम आदिवासी धान की खेती करते है लेकिन कोई भी खाद का उपयोग नहीं करते है...

सीजीनेट जनपत्रकारिता यात्रा आज ग्राम-मोलसनार, जिला-दंतेवाडा (छत्तीसगढ़) में पहुँची है वहां से कन्हैयालाल केवट के साथ में गाँव के किसान साथी बोंगो, बुधुराम भास्कर, हूँगा, सुन्दरलाल कडती, पुदियाराम भास्कर, दिनेश भास्कर और लिंगाराम है जो बता रहे है कि ये सब लोग खेती का काम करते है और सभी 10 से 15 खंडी धान बोते है, धान के आलावा जोंदरा, अरहर, मूंग मसूर, तिल, हरवा भी बोते है और इसमें ये लोग कोई भी खाद का उपयोग नहीं करते है और जो गाय के गोबर की खाद होती है जो घर के आसपास पड़ी रहती है वो घर के आसपास में ही मिर्ची का पौधा है उनमे डालते है बाकि कोई जगह पर कोई खाद नहीं डालते है | कन्हैयालाल केवट@8225027272

Posted on: Oct 25, 2017. Tags: KANHAIYALAL KEWAT DANTEWADA

बड़ा मजा आगे जी दंतेवाड़ा के जिला मा...गीत

जिला-दंतेवाड़ा (छत्तीसगढ़) से कन्हैयालाल केवट एक गीत सुना रहे हैं:
बड़ा मजा आगे जी दंतेवाड़ा के जिला मा-
एमपी से आये हवन छत्तीसगढ़ मा-
राहतहवन बैंक के किला मा-
नाहवय धोवय के सुगर है व्यवस्था-
सुबह शाम खावाथन खाना-
सीजीनेट के प्रचार करे बर-
नौ बजे होवथन रवाना-
आसपास गाँव में आथन और जाथन-
गाडी के रंग है पीला मा-
बड़ा मजा आगे जी दंतेवाड़ा के जिला मा...

Posted on: Oct 25, 2017. Tags: KANHAIYALAL KEWAT DANTEWADA

किसान स्वर: मैंने रासायनिक खाद डाला, फसल बढ़ी पर ज़मीन कड़ी हो गयी फिर कभी नहीं डाला...

ग्राम पंचायत-गदापाल, जिला-दन्तेवाड़ा, (छत्तीसगढ़) से कन्हैयालाल केवट गाँव के पूर्व सरपंच लिंगाराम मंडावी के साथ में हैं ये बता रहे हैं कि ये 15 साल से सरपंची कर रहे है अभी इनकी पत्नी सरपंच हैं इसके साथ ही ये 17 एकड़ की भूमि में खेती का काम भी करते हैं जिसमे पूरे परिवार का जीवन यापन होता हैं इनके पास 80 बकरे हैं इसके गोबर और गाय के गोबर को मिलाकर खाद के लिए उपयोग करते हैं इनका कहना है कि ये बाजार में आने वाले रासायनिक खाद का उपयोग नहीं करते क्योंकि इससे फसल तेजी से तो बढ़ती है लेकिन बाद में भूमि कड़ी हो जाती है जिससे फसल अच्छे से नहीं होता और तरह तरह की बीमारी भी होती है इसलिए प्राकृतिक खाद से खेती करना ही बेहतर समझते हैं. केवट@8225027272

Posted on: Oct 24, 2017. Tags: KANHAIYALAL KEWAT

« View Newer Reports

View Older Reports »

Recording a report on CGNet Swara

Search Reports »

Loading

Supported By »


Environics Trust
Gates Foundation
Hivos
International Center for Journalists
IPS Media Foundation
MacArthur Foundation
Sitara
UN Democracy Fund


Android App »


Click to Download


From our supporters »