किसान स्वर : गन्ने की खेती करने के तरीके...

ग्राम-देवरी, जिला-सूरजपुर (छत्तीसगढ़) से कैलास पोया गन्ने की फसल लगाने का तरीका बता रहे हैं| गन्ना लगाने से पहले उसके पत्ते को पहले साफ कर लें| उसके बाद तीन गाठी के समूह में उसे काट लें| गन्ना लगाने के लिये नालियां बना कर उसमे खाद डालना होता है और गन्ने को लेटा हुआ लगाएं | उससे पहले नाली में कीचड़ कर ले जिससे गन्ना अच्छे से लग जाये| फसल को 8 दिन में एक बार पानी देते रहना है| गन्ने की खेती के समय ये उपाय करने से फसल अच्छा हो सकता है| जनवरी से मार्च के बीच ये फसल लगाना चाहिये : कैलास पोया@9753553881.

Posted on: Mar 09, 2019. Tags: CG KAILSH SINGH POYA KISAN SURAJPUR SWARA

सिपाही जमीन पर, चलता है, इसलिए उसे गिरने का डर नही...गीत

ग्राम-देवरी जिला-सूरजपुर (छत्तीसगढ़) से कैलाश सिंह पोया कविता सुना रहे है:
सिपाही जमीन पर चलता है-
इसलिए उसे गिरने का डर नही-
पर उपर चढ़ा अधिकारी, तभी तो गिरेगा ही-
उसे अपनी मर्यादा को, बनाए रखना चाहिए-
ऐसा ना करने पर वह, नीचे ही गिरेगा...

Posted on: Sep 06, 2017. Tags: KAILSH SINGH POYA

अच्छा काम कर के जाने वाले...कविता

ग्राम-देवरी जिला-सूरजपुर (छत्तीसगढ़) से कैलाश सिंह पोया एक कविता सुना रहे है:
हम कितना भी पैसा अपने दिमांग से कमा ले-
पर एक पाई भी साथ नही जाती-
आदमी मुट्ठी बंद करके, आता है-
परन्तु ख़ाली हाथ जाता है-
अच्छा काम कर के जाने वाले-
अपने पीछे खुशबू छोड़ जाते है-
गरीबोँ की सहायता करके-
जाने वाले को लोग याद करते है...

Posted on: Sep 05, 2017. Tags: KAILSH SINGH POYA

नलकूप खराब, कुंआ सूख गया, गाँव में शादी, पानी अधिक चाहिए, कृपया ठीक कराने में मदद करें ..

ग्राम-देवरी, जिला-सूरजपुर (छत्तीसगढ़) से कैलाश सिंह पोया बता रहे हैं कि गाँव के वार्ड क्रमांक 1 में नलकूप ख़राब है जिसके कारण जल संकट हो रहा है नजदीक में कुआ था वह भी सूख चुका है गाँव में शादी भी है तो हाल फ़िलहाल में पानी की जरूरत अधिक है, अभी दूर दराज़ से पानी लाते है, इसको ठीक करवाने के लिए आवेदन दिया गया है लेकिन अभी तक ठीक नही हुआ है, कृपया नलकूप बनवाने में मदद करे मदद करने के लिए PHE विभाग के इस नम्बर पर फ़ोन कर दबाव बनाए ताकि नलकूप जल्द से जल्द ठीक हो सके-
P.H.E.विभाग@9406042220, P.H.E. इंजीनियर@8435690000, S.D.M@9424166557. कैलाश सिंह पोया@9424166557.

Posted on: May 05, 2017. Tags: KAILSH SINGH POYA