9 अगस्त आदिवासी दिवस पर लोग शामिल और समझे-

ग्राम-देवरी, जिला-सूरजपुर (छत्तीसगढ़) से कैलास सिंह पोया बता रहे हैं| 9 अगस्त 2019 को आदिवासी दिवस मनाया जाने वाला है| ये हर वर्ष मनाया जाता है| जिसमे सभी आदिवासी समुदाय के लोग शामिल होकर मनाते हैं | वे निवेदन कर रहे हैं, कि अधिक से अधिक लोग शामिल हो| त्यौहार को मनाये और समझें| कैलास पोया@970041518.

Posted on: Aug 07, 2019. Tags: CG KAILASH SINGH POYA SURAJPUR

सावन भादों पानी के रीत, बैसाख ज्येष्ठ दशहरा गीत...गीत-

ग्राम-देवरी, जिला-सूरजपुर (छत्तीसगढ़) से कैलास सिंह पोया एक गीत सुना रहे हैं :
सावन भादों पानी के रीत-
बैसाख ज्येष्ठ दशहरा गीत-
अगहन कार्तिक बैला-सांड-
माघ पिये माड़-
दुनिया के देखा शान-
दशहरा सारे खाये पान...

Posted on: Jun 06, 2019. Tags: CG KAILASH SINGH POYA SONG SURAJPUR

कई बार आवेदन किये, आज तक नल कूप नहीं लगा...मदद की अपील-

ग्राम-देवरी, पोस्ट, थाना-चंदोरा, तहसील, ब्लाक-प्रतापपुर, जिला-सूरजपुर (छत्तीसगढ़) से कैलाश सिंह पोया बता रहे हैं| उनके गाँव के वार्ड क्रमांक 1 में नल कूप नहीं है| पारा में 5 घर और लगभग 35 जनसंख्या है| लोग पानी की समस्या से जूझ रहे हैं| उन्होंने नल के लिये अधिकारियों के पास आवेदन दिया| जिसके बाद पिछले वर्ष अधिकारी जगह का निरीक्षण किये, और बारिश के बाद बनाने का अस्वासन दिया| बारिश के बाद आवेदन करने पर अधिकारी चुनाव के बाद का समय दिये| लेकिन समय गुजरने के बाद भी आज तक काम शुरू नहीं किया गया| इसलिये वे सीजीनेट के साथियों से अपील कर रहे हैं| कि दिये गये नंबरों पर बात कर, वार्ड में नल कूप लगवाने में मदद करें: PHE@8435574233, सरपंच@7872911742. संपर्क नंबर@7970041518.

Posted on: Jun 02, 2019. Tags: CG KAILASH SINGH POYA PROBLEM SURAJPUR

जंगल में एक वृक्ष खड़ा था, सब वृक्षों से बड़ा था...बाल कविता

ग्राम-देवरी, ब्लाक-प्रतापपुर, जिला-सूरजपुर (छत्तीसगढ़) से कैलाश सिंह पोया एक बाल कविता सुना रहे हैं :
जंगल में एक वृक्ष खड़ा था, सब वृक्षों से बड़ा था-
लंबा चौड़ा छायादार, उसके नीचे था बाजार-
बंदर बेच रहा था आलू, उसको तोल रहा था भालू-
हिरण लिया सब्जी का ठेला, बेच रहा था हरा केला-
लौकी, कोहड़ा और पपीता लेकर आया बूढा चीता-
खरहा हरी मिर्च ले आये, बंदरिया को लगे उसे चखाए...

Posted on: Sep 23, 2018. Tags: CG CHILDREN KAILASH SINGH POYA POEM SURAJPUR

रक्षाबंधन भाई बहन के बीच भावना का त्यौहार है, इस पर सिर्फ पैसे खर्च करने का औचित्य नहीं है...

कैलाश सिंह पोया रक्षाबंधन त्यौहार के बारे में बात कर रहे हैं उनका कहना है कि भाई बहन बनाना भावना की बात है हम किसी को भाई या बहन मानते हैं तो उस रिश्ते को मानना भावना की बात है पर इस तरह के त्यौहारों में पैसे खर्च करके राखी खरीदना और मिठाई आदि पर अधिक खर्च करने से सेठ साहूकार का ही फायदा होता है उनका कहना है कि हमें इन सब बेकार के खर्च से बचना चाहिए और यह आदिवासी समाज का त्यौहार नहीं है तो इस पर उनका औरों को देख कर अपने पैसे बर्बाद करना सही बात नहीं है पर हमें इस त्यौहार की भावना को समझकर भाई बहन बनाकर उनके साथ रिश्ता बेहतर करने का प्रयास हम सभी को करते रहना चाहिए | कैलाश सिंह पोया@9753553881

Posted on: Aug 26, 2018. Tags: KAILASH SINGH POYA SURAJPUR CG

View Older Reports »

Recording a report on CGNet Swara

Search Reports »

Loading

Supported By »


Environics Trust
Gates Foundation
Hivos
International Center for Journalists
IPS Media Foundation
MacArthur Foundation
Sitara
UN Democracy Fund


Android App »


Click to Download