मै कहता हूँ भईया नशा छोड़ दे...नशामुक्ति कविता-

ग्राम-केसकाल, जिला-कोंडागांव (छत्तीसगढ़) से कैलाश नशा मुक्ति पर एक कविता सुना रहे हैं :
मै कहता हूँ भईया नशा छोड़ दे –
अपने अपनो से रिश्ता जोड़ दे –
शराब पीना सेहत के लिए हानी है – बीवी बच्चे परिवार की बदनामी है – दोस्ती ऐसे से करो जो जीना जानते हैं – ऐसे से दोस्ती मत करो जो पीना जानते हैं...

Posted on: Nov 19, 2017. Tags: KAILASH KONDAGAON