तिना नामिर ना नो रे नारे ना नो रे...गोंडी दीपावली गीत

ग्राम-चहचड़, तहसील-दुर्गकोंदल, जिला-कांकेर (उत्तर बस्तर), छत्तीसगढ़ से जीरन दुग्गा एक गोंडी गीत गा रही हैं. यह गीत उलकी गीत है जिसे आदिवासी समाज में दीपावली के अवसर पर गाया जाता है:
तिना नामिर ना नो रे नारे ना नो रे-
हे के कनी चौर देवें औ-
इ बाई टकरा ई हे के कनी चौर देवें औ...

Posted on: Nov 07, 2015. Tags: Jeeran Dugga