माता सरस्वती आरती मोर लीजे...गीत-

ग्राम-केरकेट्टा, पोस्ट-जोगा, थाना-उचारी रोड, जिला-पलामू (झारखण्ड) से अंजनी कुमारी एक आरती गीत सुना रही हैं :
माता सरस्वती आरती मोर लीजे-
आरती मोर लीजे, विद्या धन दीजे-
काती के दियारा रे काती के बाती-
काती के घीवा जरेला सारी राती-
माटी के दियरा कपास के बाती-
गाय के घीवा जरेला सारी राती...

Posted on: Jun 07, 2019. Tags: ANJANI KUMARI JHARKHAND PALAMU SONG

यायो अब मेल रहत होले...कुडुक गीत-

ग्राम पंचायत-रामपुर, प्रखण्ड-चैनपुर, जिला-गुमला (झारखण्ड) से जुगनी खलखो, खलोरा खलखो, विष्णु तिग्गा, फुलजंसिया खलखो, बरजलिया खलखो एक कुडुक भाषा में एक गीत सुना रहे हैं:
यायो अब मेल रहत होले-
एड पग मै एका नगल तब ओ-
एडपा ना मै एका नागल बेली सो-
एडपा ना मै एका नगद बेद तो-
गाँव गन्नो मेल रहत होले...

Posted on: Jun 05, 2019. Tags: ANKIT PADWAR CHAINPUR GUMLA JHARKHAND SONG

योजना के तहत कुआ खुदाया था, अभी तक उसे बनाने का मटेरियल नहीं दिया गया...मदद की अपील-

ग्राम-छोटा गुंटिया, विकासखण्ड-खुटपानी, जिला-वेस्ट सिंहभूम (झारखण्ड) से बुम्बी कन्डेब्रू बता रहे हैं| उन्होंने मनरेगा के तहत एक कुआ खुदाया था| खुदाई का काम पूरा हो चुका है| लेकिन अभी तक उसे बनाने का मटेरियल नहीं दिया गया है| उन्होंने उस संबंध में अधिकरियों के पास कई बार आवेदन किया| लेकिन कोई सुनवाई नहीं हो रही है| इसलिए सीजीनेट के साथियों से अपील कर रहे हैं, कि दिये गये नंबरों पर बात कर समस्या का निराकरण कराने में मदद करें| BDO@9431767392, मुखिया@5701159556, सचिव@9931259399. संपर्क नंबर@7366921670.

Posted on: Jun 01, 2019. Tags: BUMBI KANDEBRU JHARKHAND PROBLEM WEST SINGHBHUM

माँ संवेदना है, भावना है, अहसास है... कविता-

ग्राम-नवादा, विकासखण्ड-सिमरिया, जिला-चतरा (झारखण्ड) से राजू राणा एक कविता सुना रहे हैं :
माँ संवेदना है, भावना है, अहसास है-
माँ जीवन के फूले में खुशबू का वास है-
माँ रोते हुए बच्चे का खुशनुमा पलना है-
माँ मरुस्थल में नदी या मीठा सा झरना है-
माँ लोरी है, गीत है, प्यारी सी थाप है-
माँ पूजा की थाली है, मंत्रो की जाप है...

Posted on: May 12, 2019. Tags: CHATRA JHARKHAND POEM RAJU RANA

स्वास्थ्य स्वर : लौंग के औषधीय गुण और उपयोग-

नवाडी, बोकारो (झारखण्ड) से निर्मल महतो लौंग के औषधीय गुणों के बारे में बता रहे हैं| लौंग को मुह में रखकर चूसने से खांसी की समस्या में आराम मिल सकता है| इसके साथ ही मुह से आने वाली दुर्गंध भी ख़त्म होती है| लौंग तेल की कुछ बूंदे कपड़े में लेकर सूंघने से शर्दी ठीक हो सकती है| लौंग को पीसकर 100 मिली लीटर पानी में मिलाकर उसे छान लें, और मिश्री मिलाकर पियें| इससे ह्रदय संबंधी समस्या और पेट की समस्या में आराम मिल सकता है| लौंग का तेल दर्द वाले स्थान पर लगाने से दर्द में आराम मिल सकता है| लौंग को पानी के साथ पीसकर, हल्के गर्म पानी में मिलाकर पीने से जी मचलना बंद हो जाता है| इस तरह से लौंग के कई फायदे हैं| अधिक जानकारी के लिये संपर्क कर सकते हैं : निर्मल महतो@8674868359.

Posted on: May 02, 2019. Tags: BOKARO HEALTH JHARKHAND NIRMAL MAHATO

« View Newer Reports

View Older Reports »

Recording a report on CGNet Swara

Search Reports »

Loading

Supported By »


Environics Trust
Gates Foundation
Hivos
International Center for Journalists
IPS Media Foundation
MacArthur Foundation
Sitara
UN Democracy Fund


Android App »


Click to Download