बन्दर मामा पहन पजामा दावत खाने आये....कविता

नगर पंचायत-भामरागड जिला-गडचिरोली महाराष्ट्र से जानवीरानू धुर्वा एक कविता सुना रही है:
बन्दर मामा पहन पजामा दावत खाने आये-
पीला कुर्ता टोपी जूता वह बहुत इतराए-
जलेबी में जी चाहा मुह में रखा गप से-
नरम नरम था गरम गरम था-
जीभ जल गई झट से   CS

Posted on: Jun 14, 2020. Tags: BHAMRAGAD GADCHIROLI MH JANVIRANU DHURWA KAVITA