आदिवासी गोटुल हेलो ले...गोटुल गोंडी गीत-

ग्राम-चाचड़, तहसील-दुर्गकोंदल, जिला-उत्तर बस्तर कांकेर (छत्तीसगढ़) से सोमे कोवाची के साथ गीता नुरुटी, जमुना दुग्गा, जिन्केश्वरी दुग्गा और सविता कुमरा एक गोटुल गीत गोंडी भाषा में सुना रहे है:
रे रे लोयो रेला रे रेला रेला रे रेला-
आदिवासी गोटुल हेलो ले-
जाति गोटुल लयोर हेलो ले-
जाबुर-जाबुर मट्टा लोपा रा-
दादा आदिवासी लोहक मन्तारा-
जाति गोटुल लयोर हेलो ले-
हेलो जाति गोटुल लयोर हेलो ले-
रे रे लोयो रेला रे रेला रेला रे रेला...

Posted on: Jul 10, 2018. Tags: GEETA NURUTI JAMUNA DUGGA SOME KAWACHI

Recording a report on CGNet Swara

Search Reports »

Loading

Supported By »


Environics Trust
Gates Foundation
Hivos
International Center for Journalists
IPS Media Foundation
MacArthur Foundation
Sitara
UN Democracy Fund


Android App »


Click to Download