अरपा पैरी के धार महानदी हे अपार...छत्तीसगढ़ी गीत

ग्राम पंचायत-गीरनपाल, विकासखण्ड-जगदलपुर, जिला-बस्तर (छत्तीसगढ़) से कुमारी रैला नाग एक छत्तीसगढ़ी गीत सुना रही है:
अरपा पैरी के धार महानदी हे अपार-
इंदिरावती हर पखारय तोरे पईयां-
महूं पांवे परंव तोर भुँइया-
जय हो जय हो छत्तीसगढ़ मईया-
सोहय बिंदिया सही, घाट डोंगरी पहार-
चंदा सुरूज बने तोरे नैना...

Posted on: Dec 22, 2019. Tags: CG JAGDLPUR RAILA NAAG SONG

जंगली जड़ी बूटी से लोगो का इलाज करते हैं, हड्डी टूटने पर दवा देते हैं...कहानी-

पुजारी पारा, ग्राम-मामडपाल, ब्लाक-दरभा, जिला-जगदलपुर (छत्तीसगढ़) से बुटलू बता रहे हैं| वे पारंपरिक तरीके से लोगो का इलाज करते हैं| मुख्य रूप से वे हड्डी के टूटने पर दवा देते है| वे पढ़े लिखे नहीं है| अपने पिता से उन्होंने इलाज करना सीखा है | दवा बनाने के लिये जंगल से प्राप्त जड़ी बूटी का उपयोग करते हैं| उनके पास गांव के आस-पास के लोग इलाज के लिये आते हैं|

Posted on: Apr 26, 2019. Tags: BHOLA BAGHEL CG DARBHA JAGDLPUR STORY