करम डार तरी, करमा खेले बर आबे संगी...कर्मा गीत-

ग्राम-नीलकंठपुर, ब्लाक-प्रतापपुर, जिला-सूरजपुर (छत्तीसगढ़) से जगदेव प्रसाद पोया एक कर्मा त्यौहार पर एक गीत सुना रहे हैं :
करम डार तरी, करमा खेले बर आबे संगी-
कोन हर गीत गावे, कोन हर नाचे-
कोन हर गिरी-गिरी मांदर बाजा वे-
करम डार तरी, करमा खेले बर आबे संगी-
बबा मन गीत गावे, दादी हर नाचे-
ददा हर गिरी मांदर बजावे-
करम डार तरी, करमा खेले बर आबे संगी...

Posted on: Sep 11, 2019. Tags: CG JAGDEV PRASAD POYA SONG SURAJPUR

कर्मा कुहुकी मारे मांदर के ताल मा...कर्मा गीत-

ग्राम-नीलकंठपुर, ब्लाक-प्रतापपुर, जिला-सूरजपुर (छत्तीसगढ़) से जगदेव प्रसाद पोया कर्मा त्यौहार पर एक गीत सुना रहे हैं :
लईका छउवा नाचे, जवान बुढवा नाचे-
गाड़ के करम डारा अंगन मा-
संग मजा लेबे संगी भादो के तिहार मा-
साल मा के बार आबे भादो के उजियार मा-
कर्मा कुहुकी मारे मांदर के ताल मा...

Posted on: Sep 10, 2019. Tags: CG JAGDEV PRASAD POYA SONG SURAJPUR

Impact : 6 महीने से रुका विधवा पेंशन अब मिलने लगा है...

ग्राम-भूडूपानी, पंचायत-गोरगी, विकासखण्ड-प्रतापपुर, जिला-सूरजपुर (छत्तीसगढ़) से जगदेव प्रसाद पोया बता रहे हैं| सोनमती को 6 महीने से विधवा पेंशन नहीं मिल रहा था| जिसके लिए उन्होंने ग्राम पंचायत सचिव, सरपंच के पास में आवेदन किया| लेकिन सुनवायी नहीं हो रही थी| तब उन्होंने अपनी समस्या को 5 जुलाई 2018 को सीजीनेट में रिकॉर्ड किया | जिसके 3 महीने बाद से उनको पेंशन मिलने लगा है| इसलिये वे सीजीनेट के सभी साथियों और संबंधित अधिकारियो को धन्यवाद दे रहे हैं| संपर्क नंबर@8462893262.

Posted on: Jul 24, 2019. Tags: CG IMPACT STORY JAGDEV PRASAD POYA SURAJPUR

कोई नहीं पराया मेरा घर सारा संसार है...कविता-

ग्राम-नीलकंठपुर, पंचायत-गोरगी, ब्लाक-प्रतापपुर, जिला-सूरजपुर (छत्तीसगढ़) से जगदेव प्रसाद पोया एक कविता सुना रहे हैं :
कोई नहीं पराया मेरा घर सारा संसार है-
मै न बंधा हूँ देश काल की जंग लगी जंजीर में-
मै न खड़ा हूँ जात पात की ऊँची नीची भीड़ में-
मेरा धर्म न कुछ शब्दो का सिर्फ नाम है-
कोई नहीं पराया मेरा घर सारा संसार है...

Posted on: Jul 20, 2019. Tags: CG JAGDEV PRASAD POYA POEM SURAJPUR

राम लखन बोये हे जवारा हो माई, मातेश्वरी तोर भुवन मा...गीत-

ग्राम-नीलकंठपुर, पंचायत-गोरगी, तहसील-प्रतापपुर, जिला-सूरजपुर (छत्तीसगढ़) से जगदेव प्रसाद पोया एक कविता सुना रहे हैं :
राम लखन बोये हे जवारा हो माई, मातेश्वरी तोर भुवन मा-
मातेश्वरी तोर भुवन मा ओ दाई, दुर्गा ओ तोर भुवन मा-
तीनो लोक गूंजे जयकारा ओ माई तोरे भुवन मा-
कौन जोते तोरे खेत महामाई, कोन बोये फुलवरिया-
कौन जलावे कलश में दियना...

Posted on: Jul 18, 2019. Tags: CG JAGDEV PRASAD POYA SONG SURAJPUR

View Older Reports »

Recording a report on CGNet Swara

Search Reports »

Loading

Supported By »


Environics Trust
Gates Foundation
Hivos
International Center for Journalists
IPS Media Foundation
MacArthur Foundation
Sitara
UN Democracy Fund


Android App »


Click to Download