माडिया बोलने वाले बच्चों को शिक्षक मराठी में पढ़ाते है तो उन्हें कई वर्ष तक कुछ समझ नहीं आता...

ग्राम-पंचायत, जुव्वी, तालुका- भामरागड जिला गडचिरोली (महाराष्ट्र) से जैनी पुंगाटी मोहन यादव को माड़िया गोंडी भाषा में बता रही है कि जो स्थानीय माडिया बोलने वाले बच्चे है उन्हें शिक्षक मराठी में पढ़ाते है तो उन्हें कई वर्ष तक समझ में नहीं आता कुछ बच्चे डर से या ना समझ पाने के कारण स्कूल जाना छोड़ देते है कुछ लोग धीरे-धीरे सीखकर आगे पढाई करते है ये चाहते है यदि यहां के स्कूलों में माडिया स्थानीय भाषा में पढाई जाए तो सब बच्चे पढ सकते |

Posted on: May 29, 2020. Tags: BHAMRAGAD GADCHIROLI EDUCATION JAENIPUNGATI MADIA MH