पीनेका, ऐ पिटेकन, नेड पिटेकन, नए बुलो वैया नोनी...गोंडी शादी गीत-

ग्राम-मामडपाल, ब्लाक-दरभा, जिला-जगदलपुर, बस्तर (छत्तीसगढ़) से फूल सिंग पोडयामी गोंडी में एक शादी एक गीत सुना रहे हैं :
पीनेका, ऐ पिटेकन, नेड पिटेकन-
नए बुलो वैया नोनी-
पीनेका, ऐ पिटेकन, नेड पिटेकन-
नए बुलो वैया नोनी-
कु विमान गिनगु गमण-
इसड वैया...

Posted on: Apr 19, 2019. Tags: BHOLA BAGHEL CG JAGDALPUR SONG

5 साल से लोग देवी की पूजा कर रहे हैं, लोगो अपनी मनोकामना लेकर मंदिर में जाते हैं-

ग्राम-कामानार, विकासखण्ड-दरभा, जिला-जगदलपुर (छत्तीसगढ़) से भोला बघेल बता रघे हैं| गांव में देवी पूजा का कार्यक्रम चला रहा है | ग्रामवासी का ये पारंपारिक त्योहार हैं|निवासी मायाराम नाग जो गांव के सरपंच है| बता रहे हैं| उनका गांव सुकमा रोड के पास स्थित है| जगदलपुर से 25 किलोमीटर दूरी पर है| वे पांच साल से इस त्योहार को मना रहे है| वहां पर हर मंगलवार और शनिवार को भक्तो का भीड़ लगता है| लोगो की माता पर आस्था और विश्वाश है| भक्त अपनी मनोकामना लेकर उस स्थान पर जाते हैं | और पूजा पाठ करते हैं |

Posted on: Apr 19, 2019. Tags: BHOLA BAGHEL CG CULTURE JAGDALPUR STORY

मेता ते ने यदुतुने दाय, ता लेने राम...धुर्वा गीत-

विकासखण्ड-दरभा, जिला-जगदलपुर (छत्तीसगढ़) से भोला बघेल ग्राम वासियों के साथ एक धुर्वा गीत सुना रहे हैं ये गीत धुर्वा समुदाय के लोग अपने बोली में गाते हैं| इस गीत को वे लोग शादी व्याह के अवसर पर गाते हैं| यह उनका पारंपरिक लोक गीत है|
मेता ते ने यदुतुने दाय-
ता लेने राम-
आबो रा राय दे दे...

Posted on: Apr 15, 2019. Tags: BHOLA BAGHEL CG JAGDALPUR SONG

गढ़िहा के बाबा रे, गढ़िहा के बाबा हो...भजन गीत-

ग्राम-छुलकारी, जिला-अनूपपुर (मध्यप्रदेश) से मनबहोर केवट अपने साथियों के साथ एक संगीतमय भजन गीत सुना रहे हैं :
गढ़िहा के बाबा रे, गढ़िहा के बाबा हो-
पावन होगे धाम ये गढ़िहा के बाबा हो-
छुलकारी के गढ़िहा मा बिराजे दुर्गा दाई हो-
बिराजे दुर्गा दाई-
पूजा करे आवथे नर-नारी मोर भाई-
जी ये नर नारी मोर भाई...

Posted on: Mar 28, 2019. Tags: ANUPPUR MANBAHOR KEWAT MP SONG

गड़े हवे गढ़िहा मा झुलेना, झुलेना दाई झुलत हो...गीत-

ग्राम-छुलकारी, जिला-अनूपपुर (मध्यप्रदेश) से मनबहोर केवट एक संगीतमय गीत सुना रहे हैं :
गड़े हवे गढ़िहा मा झुलेना, झुलेना दाई झुलत हो-
काहे के झुलेना गढ़िहा मा गड़े हे-
काहे के लगे ओमा डोर-
सोन के झुलना गढ़िहा मा गड़े हे-
सोने लगे हवय ओमा डोर, झुलेना दाई गढ़िहा मा गड़े हे...

Posted on: Mar 28, 2019. Tags: ANUPPUR MANBAHOR KEWAT MP SONG

View Older Reports »

Recording a report on CGNet Swara

Search Reports »

Loading

Supported By »


Environics Trust
Gates Foundation
Hivos
International Center for Journalists
IPS Media Foundation
MacArthur Foundation
Sitara
UN Democracy Fund


Android App »


Click to Download