सोना खान के मोर ललहू माटी...छत्तीसगढ़ी क्रान्ति गीत

हीराबाई मरावी, ग्राम सपला, पाली, जिला कोरबा छत्तीसगढ़ से शहीद वीर नारायण को याद करते हुए छत्तीसगढ़ी में एक क्रांति गीत गा रही हैं, गीत के माध्यम से बता रही हैं कि कैसे वीर नारायण आदिवासियों के हक़ हुकूक के लिए लड़ते हुए शहीद हो गए।
सोना खान के मोर ललहू माटी
हाई रे मोर ललहू माटी
तोर सुरताए हमला
वीर नारायण कहाँ लुका दे
वापस दे दे हमला
जंगल, झाड़ी, नदिया, पर्वत
खोजत हैं तोरे लाल ला
हमार गरीब, दुःखहा, भुखहा
देख तो हमार हाल ला
वीर नारायण तोर बेटा-बेटी
मनके सवांर दे करम ला
सोना खान…………
तोर कोरां मां आज सब ओझन
गोहराहीं तोरा बलाहीं
लाल, हरा झंडा के संग मां
तोरे चे गुन लगाहीं
छतीसगढ़ के सबौ लड़इया
निभाहीं आपन धरम ला
सोना खान ………।

Posted on: Mar 10, 2014. Tags: Heerabai Marawi