हमारे गाँव कंवलनार में पहले बहुत बन्दर थे, फसल को नुक्सान पहुंचाते थे अब वो जंगल भाग गए हैं...

सीजीनेट जन पत्रकारिता जागरूकता यात्रा आज ग्राम-कवलनार, ब्लॉक और जिला-दंतेवाडा (छत्तीसगढ़) में पहुँची है रूपलाल मरावी वहां से गाँव के बुज़ुर्ग हिडमा जी से उसके गाँव के बारे में एक कहानी सुन रहे है हिड़मा जी बता रहे हैं कि कवलनार गाँव में पहले बहुत सारे बन्दर रहते थे और वे बन्दर फसलो का बहुत नुक्सान भी किया करते थे | लेकिन अब सारे बन्दर पहाड़ में भाग गए है और अब वहां पर कुछ बसिंगा बस गए है और अब वहां पर कोई फसल का नुकसान नहीं होता है | प्राचीनकाल से वहां पर आदिवासी समाज के लोग बसे है, अब गाँव सड़क के किनारे है और कुछ तेलंगा लोग भी वहां बसे हैं वे भी बहुत सालों से कंवलनार गाँव में बसे हैं | रूपलाल@7089415537.

Posted on: Nov 19, 2017. Tags: HIDMA DANTEWADA