स्वास्थ्य स्वर : लड्डू बनाने की घरेलू विधि...

प्रयाग विहार, मोतीनगर, रायपुर (छत्तीसगढ़) से लड्डू बनाने का घरेलू तरीका बता रहे हैं, खजूर 250 ग्राम लेकर गुठली निकालकर रख दें और नारियल का चूरा 250 ग्राम लेकर मिला ले और रात में रख दें, उसके बाद सुबह 200 ग्राम गुड़ मिलाकर छोटे-छोटे लड्डू बना लें, उसके बाद 2 – 2 लड्डू सेवन करें, सुबह 2 लड्डू और रात को सोने से पहले दो लड्डू खाकर दूध का सेवन करें, इससे स्वास्थ्य संबंधी लाभ हो सकता है, मिर्च, मसाला, तेल, खटाई, गरिष्ठ भोजन का सेवन कम करें, नशा न करें, अधिक जानकारी के लिये संपर्क कर सकते हैं : संपर्क नंबर@9111061399.

Posted on: Feb 22, 2020. Tags: CG HD GANDHI HEALTH RAIPUR

स्वास्थ्य स्वर : केस्ट्रोल कम करने का घरेलू उपचार-

/प्रयाग बिहार,मोतीनगर,रायपुर (छत्तीसगढ़ ) से वैद्य एच डी गाँधी केस्ट्रोल कम करने का घरेलू उपचार बता रहे हैं| लहसुन की दो कली को लेकर आठ टुकड़ा करके एक कांच के कटोरी में रख दें 5,10 मिनट उसके बाद थोडा शहद मिलाकर सुबह शाम खाली पेट में सेवन करने से लाभ हो सकता है, ज्यादा गर्मी पड़ने पर इसका प्रयोग एक बार ही करे: अधिक जानकारी के लिये संपर्क कर सकते हैं : एच डी गांधी@9111061399.

Posted on: Feb 17, 2020. Tags: CG HD GANDHI HEALTH RAIPUR

अरपा पैरी के धार, महानदी हे अपार...राष्टीय गीत

शासकीय उच्चतर मधामिक विद्यालय-भाटपाल, जिला-नरायणपुर (छत्तीसगढ़) से सुखदाई कचलाम साथ में महिमा पोटई दुर्गा कोराम एक राष्टीय गीत सुना रहे है:
अरपा पैरी के धार, महानदी हे अपार-
इँदिरावती हा पखारय तोर पईयां-
महूं पांवे परंव तोर भुँइया-
जय हो जय हो छत्तीसगढ़ मईया-
सोहय बिंदिया सहीं, घाट डोंगरी पहार-
चंदा सुरूज बनय तोर नैना...

Posted on: Feb 17, 2020. Tags: CG KACHLAM NARAYANAPUR SONG SUKHDAI

हमर मर्दा बड़े मर्दा मुदा...गीत-

ग्राम-मरकापाल, जिला-कोंडागांव (छत्तीसगढ़) से राधा एक शादी गीत सुना रही हैं:
हमर मर्दा बड़े मर्दा मुदा-
दे मोसी दे मोसी एडा रे-
कप गुदी डारे लिदी-
दे तुंजा न बीती बीती-
ए सुर बोरबा बोडे बो रबा-
ए सुर बोरबा बोडी बो रबा...

Posted on: Feb 15, 2020. Tags: CG GONDI KONDAGAON SONG SUKHDAI KACHLAM

स्वास्थ्य स्वर : धातु पौष्टिक बनाने का घरेलू तरीका-

प्रयाग विहार, मोतीनगर, रायपुर (छत्तीसगढ़) से वैद्य एच डी गाँधी धातु पौष्टिक बनाने का घरेलू तरीका बता रहे हैं, बबूल की फल्ली बिना बीज वाली 100 ग्राम, बबूल की नरम हरी पत्तियां 100 ग्राम, बबूल की गोंद 100 ग्राम लें और चूर्ण बना लें, उसके बाद 100 ग्राम काली मुसली और 100 ग्राम सफ़ेद मुसली, 100 ग्राम सतावर, जंगली कोच में बीज 100 ग्राम और 100 मिश्री मिला लें, सभी को चूर्ण बना कर एक-एक चम्मच चूर्ण सुबह खाली पेट गुनगुने दूध के साथ और रात को सोने से पहले सेवन करें, सबंधित विषय पर बात कर जानकारी ले सकते हैं : एच डी गाँधी@9111061399.

Posted on: Feb 15, 2020. Tags: CG HD GANDHI HEALTH RAIPUR

« View Newer Reports

View Older Reports »

Recording a report on CGNet Swara

Search Reports »

Loading

Supported By »


Environics Trust
Gates Foundation
Hivos
International Center for Journalists
IPS Media Foundation
MacArthur Foundation
Sitara
UN Democracy Fund


Android App »


Click to Download