दांत टूटने के बाद फिर नया आता है, वैसे ही चाँद नया आ गया है...कहानी-

अकबर के पास एक नातिन थी| वो उन्हें नाना कहकर पुकारती थी| वह बच्चों की तरह मजाक करते थे | उन्हें बहुत पसंद करते थे| उन्हें अपने कमरे में ही ठहराते थे| एक बार उनकी नातिन ने उनसे जिद करके कहा मुझे चाँद चाहिए| मुझे लाकर दो, अकबर में सभी मजदुर, और दरबारियों को बुलाया | वो रोते हुए चाँद मांग रही थी| अकबर घबराये हुए थे | यह प्रस्ताव वह सभी के सामने रखे| किसी ने कहा चाँद तो आसमान में है कहाँ से लाकर दें| फिर अकबर बीरबाल के तरफ देखा| फिर बीरबल ने नातिन से पूछा चाँद कैसा होता है ? नातिन अपने हाथ पर एक गोला बनाकार कहा चांद ऐसा होता है| तो बीरबाल ने एक चांदी का सिक्का जिसका रूपये लिखा हुआ को मिटाकर लाकर दिया| नातिन खुश हुई| शाम को अकबर घबराए हुए टहल रहे थे | बीरबल के पास गये| अकबर ने बोला नातिन ये चाँद देखकर ये तो न कहे की आपने हमें झूट कहा है| बीरबल ने कहा उसके पूछने के पहले ही हम उसे पूछते हैं| बीरबल ने उसे गोद में उठाकर पूछा हमने तो तुम्हे चाँद दिया था| ये दुसरा चाँद कहाँ से आ गया | नातिन ने कहा जैसे हमारे दांत टूटने के बाद फिर नया आता है | वैसे ही चाँद नया आ गया है| सभी ने खुश हुए|

Posted on: May 31, 2019. Tags: HARIYANA SONU GUPTA STORY

बड़े या ताकतवर होने का घमंड नही करना चाहिए...कहानी

गुडगाँव, हरियाणा से सोनू गुप्ता कहानी सुना रहे हैं:
एक बार जिराफ, चिंटी बन्दर, मोनू हांथी, डम्पी चूहा था| एक बार वे सभी रात में वे जंगल गये | लम्बे गर्दन वाला जिराफ हांथी से बोला, क्यों बदे मिया देखो तुम्हारी सूढ कैसी लटकी रहती हैं तुम कोई काम के नही हो | इतना बड़े सूढ लेके तुम क्या करते क्या नही कौन जानता है, ये तुम्हारी सूढ कोई काम की नही है |हांथी बन्दर से कहा क्यों लम्बुदास देखो तुम्हारी पूंछ इतनी लम्बी हो गई है, इतनी लम्बी पूछ क्या कर पाओगे| तुम कुछ नही तोड सकते |मेरी गर्दन को देखो मै अपने गर्दन से कुछ तोड़ सकता हूँ, कही भी दौड़ सकता हूँ | तब जिराफ चूहा से कहा क्यों मिया तुम्हारी शक्ल तो देखो, तुम्हारी शक्ल कैसी दिख रही है, इतने छोटे हो अगर एक पैर भी आपके ऊपर पड़े तो कुचल दिए जाओगे, तो तुम किस काम के हो | मेरी गर्दन बहुत लंबा है हमें तो कोई मार भी नही पायेगा| तब उन्होंने देखा दूर से गुब्बारे उड़ते हुए दिखाई दिए| और कुछ शेर के झुण्ड आ रहे थे | शेरो के झुण्ड जिराफ के तरफ आ रहे थे, और सभी भाग गये, बन्दर पेड़ पर चढ़ गया| जिराफ भागने लगा लेकिन पेड़ों पर उसके गर्दन टकराने से वह घायल होकर गिर गया| तब हांथी को दया आ गया और पास जाकर जोर से चिल्लाया और शेर भाग गये| तब उसे अपने गलती का ऐहसास हुआ, माफ़ी माँगा, बन्दर उसमे दवाई लगाईं | इसलिए बड़े या ताकतवर होने का घमंड नही करना चाहिए |

Posted on: May 25, 2019. Tags: ) GUPTA HARIYANA SONU

« View Newer Reports